Movie prime
केंद्र सरकार के कार्यक्रम से बाहर हुए CM नीतीश, मंत्री नवीन और BJP प्रदेश अध्यक्ष को मिली जगह
 

बिहार में एक बार फिर से पोस्टर पर सियासत शुरू हो गई है. साथ ही बिहार में एनडीए गठबंधन के मजबूत होने के चाहे कितने भी दावे जदयू और भाजपा नेताओ की तरफ से की जाती रही हो,लेकिन दोनों के रिश्ते में आल इज वेल नहीं यह बात एक बार फिर साबित हुई है. दरअसल कल यानी 14 मई को कोइलवर पुल का उद्घाटन होना है, लेकिन पोस्टर से सीएम ही गायब हैं. 266 करोड़ की लागत से NH-30 के कोइलवर में 3 लेन डाउनस्ट्रीम पुल का उद्घाटन केंद्रीय सड़क, परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी करेंगे. इसमें केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह भी शामिल होंगे.

जिसको लेकर पटना में कई जगहों पर पोस्टर लगाए गए हैं. इस पोस्टर के माध्यम से इस उद्घाटन कार्यक्रम को पूरी तरह BJP का कार्यक्रम बना दिया गया है. पोस्टर में PM नरेंद्र मोदी, नितिन गडकरी, आरके सिंह की बड़ी तस्वीर लगाई गई है. इसके अलावा इसमें पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष JP नड्‌डा, बिहार के पथ परिवहन मंत्री नितिन नवीन और प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल को जगह दी गई है. लेकिन बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इसमें जगह नहीं दी गई है. जिसके बाद एक बार फिर से दोनों पार्टियों के रिश्ते पर सवालिया निशान लगता हुआ नजर आ रहा है.

कोईलवर में सोन नदी पर 266 करोड़ की लागत से नए सिक्स लेन पुल का कल उद्घाटन होना है. इस पुल के तीन लेन का पहले ही उद्धाटन किया जा चुका है और कल बाकि के तीन लेन का शुभारंभ किया जाना है. जिसका उद्घाटन केंद्रीय पथ निर्माण मंत्री नीतिन गडकरी द्वारा किया जाना है. वहीं  मुख्य अतिथि के तौर पर स्थानीय सांसद व केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह मौजूद रहेंगे. इस पुल के उद्घाटन को लेकर पटना में कई जगह पोस्टर लगाए गए हैं. अब इस पोस्टर पर विवाद शुरू हो गया है.

पुल के उद्घाटन को लेकर जो पोस्टर लगाए गए हैं. उनमें प्रधानमंत्री, केंद्रीय पथ निर्माण मंत्री, केंद्रीय ऊर्जा मंत्री की तस्वीरों के साथ जेपी नड्डा, बिहार बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डा. संजय जायसवाल और पथ निर्माण मंत्री नीतिन नवीन नजर आ रहे हैं. लेकिन हैरान करनेवाली बात है कि इस सरकार कार्यक्रम के पोस्टरों में बिहार के मुख्यमंत्री के लिए जगह नहीं बन सकी है। अब जिस तरह से बिहार के मुख्यमंत्री को पोस्टरों से गायब किया गया है. उसके बाद विपक्ष को एक बार फिर से दोनों पार्टियों के रिश्ते पर सवाल उठाने का मौका मिल गया है.

पोस्टर से नीतीश गायब होना ये कोई पहली घटना नहीं है पिछले साल भी आरा में एक ओवरब्रिज के उद्घाटन समारोह को लेकर सियासत हुई थी. पिछले वर्ष 22 अगस्त में पूर्वी गुमटी रोड पर बने ओवरब्रिज के उद्घाटन कार्यक्रम के पोस्टर से CM नीतीश कुमार की तस्वीर गायब थी. इस मामले का विवाद बढ़ने पर BJP को बैकफुट पर आना पड़ा था.