Movie prime
आकाशीय बिजली से बचने के लिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं, जानिए
 

बिहार में मानसून सक्रिय हो चुका है. आज मौसम विभाग ने 8 जिलों के लिए अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के अनुसार, राज्य के 8 जिलों में भारी बारिश की संभावना है. तेज हवा के साथ वज्रपात की भी चेतावनी दी गयी है. बता दें कि पिछले कुछ दिनों में वज्रपात से कई लोगों की मौत हुई है. ऐसे में लोगों को सचेत रहने का निर्देश दिया गया है.

दक्षिण बिहार के पटना समेत, बक्सर, भोजपुर, रोहतास, औरंगाबाद, अरवल, गया, जहानाबाद समेत कई जिलों में शुक्रवार को बिजली चमकने, बादल छाए रहने के साथ हल्की बूंदाबांदी का पूर्वानुमान है। वहीं, प्रदेश के उत्तरी भागों के 17 जिलों में मेघ गर्जन, वज्रपात व आठ जिलों के भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। पूर्वी व पश्चिमी चंपारण, शिवहर, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया एवं किशनगंज जिलों में भारी वर्षा को लेकर मौसम विज्ञान केंद्र ने औरेंज अलर्ट जारी किया है। इन जगहों पर रहने वाले लोगों को चेतावनी देते हुए सुरक्षित स्थानों पर रहने की सलाह दी गई है।

मौसम विज्ञान केंद्र पटना ने लोगों को सलाह दी है कि घर में ही रहे हैं. तेज बारिश के समय पक्के मकान में छिप जाएं. पेड़ और खाली स्थान से दूर रहें. बिजली के खंभे से भी दूर रहने की सलाह दी गयी है.

बिजली गिरने पर सिर के बाल खड़े हो जाएं या झुनझुनी होने लगे तो फौरन नीचे बैठकर कान बंद कर लें. यह इस बात का संकेत है कि आपके आस-पास बिजली गिरने वाली है. दोनों पैरों को आपस में सटा लें, दोनों हाथों को घुटनों पर रख कर अपने सिर को जमीन की तरफ जितना संभव हो झुका लें. सिर को जमीन से सटने न दें. जमीन पर कभी न लेटें. पेड़ बिजली को आकर्षित करते हैं, इसलिए पेड़ के नीचे खड़े न हों. समूह में न खड़े रहें, अलग-अलग हो जाएं. जहां हैं, वहीं रहें. हो सके तो पैरों के नीचे सूखी चीजें जैसे-लकड़ी, प्लास्टिक, बोरा या सूखे पत्ते रख लें. घर से बाहर हैं तो धातु से बनी वस्तुओं का इस्तेमाल न करें. बाइक, बिजली के पोल या मशीन से दूर रहें. बिजली से चलने वाले उपकरणों से दूर रहें. खिड़कियों, दरवाजे, बरामदे और छत से दूर रहें.

गुरुवार को 23 जिलों के कुछ-कुछ स्थानों पर मध्यम स्तर की वर्षा और कहीं-कहीं हल्की वर्षा हुई है. सबसे अधिक भागलपुर के कहलगांव में 30.4 मिलीमीटर वर्षा हुई. इसके अलावा बांका, जमुई, पूर्वी चंपारण, सिवान, मुजफ्फरपुर, सारण, सुपौल, वैशाली, रोहतास, औरंगाबाद, बक्सर, भोजपुर, कैमूर, समस्तीपुर, पटना, नालंदा, नवादा, जहानाबाद, अरवल, शेखपुरा, बेगूसराय और लखीसराय में भी वर्षा हुई.