Movie prime
बिहार के 12 जिलों में लू का अलर्ट, पटना में बदलेगा स्कूलों का टाइम
 


बिहार में समय से पहले सूरज के प्रचंड ताप और पछुआ के प्रवाह से जनजीवन पर असर पड़ा है. लगातार प्रचंड गर्मी से लोगों की सेहत भी बिगड़ने लगी है. अस्पतालों की ओपीडी में उल्टी-दस्त और बुखार के मरीजों की संख्या में 15-20 फीसदी बढ़ोतरी देखी जा रही है. इसे देखते हुए मौसम विभाग ने 12 जिलों में लू का अलर्ट जारी किया है, इन जिलों में पारा 42 डिग्री के पार जा सकता है जिससे आसमान से आग बरसने जैसी स्थिति होगी. मौसम विभाग ने ऐसे मौसम में लोगों से दिन में घर से बाहर नहीं निकलने की चेतावनी दी है. मौसम विभाग का कहना है कि 24 घंटे के दौरान राज्य का मौसम पूरी तरह से शुष्क बना रहा.

सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान 45.6 डिग्री बक्सर में दर्ज किया गया, जबकि सबसे कम न्यूनतम तापमान 19.5 डिग्री सीतामढ़ी में रिकॉर्ड किया गया. मौसम विभाग के मुताबिक शुष्क पश्चिमी एवं उत्तर पश्चिमी हवा के प्रभाव से राज्य के अनेक स्थानों पर अधिकतम तापमान 40 डिग्री के पार हो गया है, विशेषकर राज्य के पश्चिमी और दक्षिणी भागों में लू जैसी स्थिति बनी रही.

24 घंटे में अधिकतर जिलों के तापमान 40 डिग्री के पार रहा है, इसमें पटना 42 डिग्री सेल्सियस, गया 42.3 डिग्री, भागलपुर 41.2 डिग्री, सुपौल 40.4 डिग्री, डेहरी 42.6 डिग्री, शेखपुरा 43 डिग्री सेल्सियस, जमुई 42.6 डिग्री, बक्सर 45.6 डिग्री, वैशाली 40.9 डिग्री, औरंगाबाद 42.4 डिग्री, बांका 43.6 डिग्री, नवादा 42.6 डिग्री, नालंदा 41.9 डिग्री, और जीरोदेई में 41.3 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा.

मौसम विभाग के मुताबिक सतह से 1.5 KM ऊपर तक शुष्क पश्चिमी हवा का प्रवाह बना हुआ है, जिसके आने वाले अगले दो दिनों में मंद होने की संभावना है. इसलिए अगले 24 घंटे के दौरान प्रदेश का मौसम शुष्क बने रहने की संभावना है. अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कुछ भागों में विशेषकर दक्षिण पश्चिम दक्षिण मध्य भागों में लू जैसी स्थिति बनी रहेगी. दक्षिण पूर्व भाग के एक दो स्थानों पर लू की स्थिति परेशानी बन सकती है, 12 जिलों में लू की चेतावनी दी जा रही है.

लू के दौरान आम लोगों से अपील की गई है कि दोपहर में घर से बाहर नहीं निकलें. तेज धूप में पारा 44 डिग्री के पार हो सकता है. ऐसे में लू को लेकर पूरी तरह से अलर्ट रहना होगा. सेहत को लेकर लोगों से अपील की गई है कि सेहत की सुरक्षा को लेकर पूरी तरह से सावधान रहे. सुरक्षा को लेकर पूरी तरह से एहतियात बरती जाए. शरीर में पानी की कमी नहीं होने पाए जिससे लोगों को गर्मी और लू में कोई परेशानी हो.

प्रचंड गर्मी को लेकर स्कूलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. अब कोई भी शैक्षणिक क्लास 11.45 के बाद नहीं चलेगी. प्रशासन ने आदेश जारी करते हुए मनमानी करने वालों पर कार्रवाई की चेतावनी दी है. पटना में गर्मी का प्रभाव दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है, इसे लेकर ही स्कूलों को विशेष निर्देश दिया गया है. आदेश साेमवार 18 अप्रैल से प्रभावी होगा.

पटना के डीएम डॉक्टर चंद्रशेखर सिंह ने जिले के सभी विद्यालयों में सभी विद्यालयों में सुबह 11.45 बजे के बाद सभी कक्षाओं के लिए शैक्षणिक गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाया है. डीएम का कहना है कि यह आदेश अधिक तापमान और विशेष रूप से दोपहर के समय अधिक गर्मी के कारण बच्चों के स्वास्थ्य और जीवन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की संभावना को लेकर जारी किया गया है.

डीएम ने आदेश में कहा है कि मौसम काफी प्रतिकूल है, ऐसे में मौसम में बच्चों को बड़ा खतरा है. आदेश में कड़ा निर्देश है कि जो भी मनमानी करेगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. यह प्रतिबंध प्री-स्कूल एवं आंगनबाड़ी केन्द्रों सहित जिले के सभी विद्यालयों पर लागू होगा.यह आदेश 18 अप्रैल से लागू होगा.