Movie prime
गर्व की बात: देश के 10 श्रेष्ठ थानों में बिहार का भी एक थाना शामिल
 

गृह मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा समस्त भारत वर्ष के 16,955 थानों में 10 श्रेष्ठ थानों को चयनित कर सम्मानित किया जाता है. बिहार के लिए गौरव का विषय है कि इन चयनित 10 श्रेष्ठ थानों में अरवल जिला के रामपुर चौरम थाना का भी चयन किया गया है. पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो (BPR & D) के अनुसार, 01 जनवरी 2020 तक सम्पूर्ण राष्ट्र में स्वीकृत पुलिस थानों की संख्या 16,955 है. तमिलनाडु में देश में सर्वाधिक 1990 थाने हैं और केन्द्र शासित प्रदेश दादरा तथा नगर हवेली, दमन एवं दीव में सबसे कम 6 थाने हैं.

DGP Bihar

बिहार राज्य में 1033 थाने हैं. चयन के मानदण्ड महिलाओं के विरुद्ध अपराध, कमजोर वर्ग के विरुद्ध अपराध, सम्पत्ति से सम्बन्धित अपराध, गुमशुदा व्यक्तियों के मामले, अज्ञात पाए गए व्यक्तियों के मामले, आरोप पत्रीकरण इत्यादि विषय हैं. चयन हेतु मूल्यांकन किसी तीसरे पक्ष (यथा एन0जी0ओ0) के द्वारा किया जाता है. 80 प्रतिशत मूल्यांकन अभिलेख आधारित होता है तथा बुनियादी ढाँचा/नागरिकों विशेषकर स्थानीय निवासियों/दुकानदारों /व्यवसायियों की प्रतिपुष्टि (Feedback)/ प्रतिक्रिया पर 20 प्रतिषत का मूल्यांकन किया जाता है. 

KK Singh

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) के पास उपलब्ध सूचना का उपयोग कर थानों का चयन किया गया है. थानों के प्रदर्षन के मूल्यांकन के लिए निर्धारित मानदण्डों के आधार पर थानों का चयन किया गया है. अरवल पुलिस अधीक्षक राजीव रंजन-1 तथा तत्कालीन थानाध्यक्ष रामपुर चौरम थाना दुर्गानन्द मिश्रा को पुलिस महानिदेषक, बिहार के द्वारा सम्मानित किया गया.