Movie prime
जीवेश मिश्रा का खुलासा, कहा- आज से 4 साल पहले हमारे ऊपर जो हमला हुआ था उसमे PFI का हाथ
 

बिहार सरकार के श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा ने पटना के फुलवारीशरीफ माड्यूल मामले को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, आज से 4 साल पहले हमारे ऊपर जो हमला हुआ था, उस वक्त तथाकथित रूप से लोगों ने पीएफआई का ही नाम लिया था. 

Bihar Terror Module Minister Jivesh Mishras said PFI also attack on him 4  years ago | Bihar Terror Module:आतंकी खुलासों पर मंत्री जीवेश मिश्रा बोले-  मेरे ऊपर हमले पर PFI का था


जीवेश मिश्रा ने बताया कि, आज से 4 साल पहले हमारे ऊपर जाले विधानसभा के भरवारा में हमला हुआ था। उस वक्त भी लोगों ने पीएफआई का नाम लिया था. जीवेश मिश्रा ने ये तक कह दिया कि पीएफआई से जुड़े हुए लोगों ने पिछले विधानसभा चुनाव में जाले विधानसभा से चुनाव लड़ा था. पीएफआई दरभंगा जिले में उस वक्त भी एक्टिव थी.

आगे फुलवारीशरीफ माड्यूल मामले को लेकर उन्होंने कहा कि,  "जब तक किसी संस्थान के खिलाफ कोई साक्ष्य या प्रमाण नहीं मिल जाता, तब तक सरकार किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं करती है. इस वक्त सरकार ने साक्ष्य जुटा लिया है. निश्चित तौर पर कार्रवाई होगी. जिस प्रकार का वातावरण पटना में बना है उसके बाद सभी साक्ष्य की जांच देश की सर्वोच्च संस्था कर रही है. इसमें जो भी दोषी पाए जाएंगे वह बख्शे नहीं जाएंगे. राष्ट्र के विरोध में काम करने वाले संगठनों को निश्चित तौर पर प्रतिबंधित किया जाएगा और उसको कठोर नहीं बल्कि कठोरतम सजा दी जाएगी। 

जानकारी के लिए बता दें पटना टेरर मॉड्यूल केस की जांच केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी को सौंप दी है. गृह मंत्रालय ने मामले की गंभीरता को देखते हुए फुलवारीशरीफ माड्यूल की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी से कराने का निर्देश जारी कर दिया है. 

पटना टेरर मॉड्यूल केस की जांच केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राष्ट्रीय जांच  एजेंसी (NIA) को सौंप दी