Movie prime
ए. एन. कॉलेज पटना में 'भारतीय विदेश सेवा एक कैरियर' विषय पर व्याख्यान का किया गया आयोजन
 

ए. एन. कॉलेज पटना में आज बुधवार को 'भारतीय विदेश सेवा: एक कैरियर' विषय पर व्याख्यान का आयोजन किया गया. व्याख्यान के मुख्य अतिथि भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी तथा हनोई, वियतनाम में भारतीय दूतावास के मिशन उप-प्रमुख़ सुभाष गुप्ता ने कहा कि शिक्षा समाज के लिए आवश्यक है.

 

ZX

शिक्षा से सम्पूर्ण व्यक्तित्व का विकास होता है और ऐसे लोग ही अखिल भारतीय सेवा के योग्य होते है. इन सेवाओं में प्रतिष्ठा के साथ-साथ जिम्मेदारी भी निहित रहती है. सुभाष गुप्ता ने भारतीय विदेश सेवा के अधिकारियों तथा दूतावास के कार्यों के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि राजनयिक के तौर पर आईएफएस अधिकारी से यह आशा की जाती है कि वह विभिन्न मुद्दों पर देश और विदेश दोनों में भारत के हितों का ध्यान रखेगा और इसे आगे बढ़ाएगा. इनमें द्विपक्षीय राजनीतिक और आर्थिक सहयोग, व्यापार और निवेश संवर्द्धन, सांस्कृतिक आदान-प्रदान, प्रेस और मीडिया संपर्क तथा सभी बहुपक्षीय मुद्दे शामिल हैं. विदेश सेवा के अधिकारी भारत की विदेश नीति के निर्माण तथा क्रियान्वयन में संलग्न रहते हैं.

अतिथियों का स्वागत करते हुए महाविद्यालय के प्रधानाचार्य प्रो. एस.पी.शाही ने कहा कि महाविद्यालय लगातार तीन बार से ए ग्रेड प्राप्त करता आ रहा है. महाविद्यालय के शिक्षकों, शिक्षकेत्तर कर्मचारियों और विद्यार्थियों के निरन्तर रचनात्मक प्रयासों से यह महाविद्यालय निरन्तर सफलता के मार्ग पर अग्रसर है।कार्यक्रम का संचालन डॉ. रत्ना अमृत ने किया. धन्यवाद ज्ञापन प्रो. नूपुर बोस ने किया. इस अवसर पर प्रो.अरुण कुमार सिंह,प्रो शैलेश कुमार सिंह,डॉ. अनिल कुमार सिंह, डॉ. संजय कुमार समेत महाविद्यालय के कई शिक्षक तथा विद्यार्थी उपस्थित रहे.