Movie prime
जेपी की जयंती पर CM ने किया उन्हें याद, कहा- उन्हीं के विचारों से प्रेरणा लेकर समाज को आगे बढ़ाया जा रहा है
 


आज यानी कि सोमवार को लोकनायक, जयप्रकाश नारायण उर्फ जेपी की जयंती है। जेपी की जयंती को लेकर देशभर में लोग उन्हें याद कर रहे हैं। इस मौके पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पटना के कदमकुआं स्थित महिला चरखा समिति पहुंचे। यहां उन्होंने जय प्रकाश नारायण की तस्वीर पर पुष्प अर्पित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने जेपी के विचारों को प्रेरणादायक बताया। साथ ही उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी, जेपी और लोहिया के विचारों को ही अपनाते हुए सामाज को आगे बढ़ाया जा रहा है। 

वहीं आज यानी सोमवार को उनकी जयंती के मौके पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पटना के कदमकुआं स्थित महिला चरखा समिति पहुंचे। यहां उन्होंने जय प्रकाश नारायण की तस्वीर पर पुष्प अर्पित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि जेपी का जो विचार है और जैसा उन्होंने नेतृत्व किया उसी से हम सब लोग जाने और सीखें और आज उसके आधार पर ही हम सब काम कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी, जेपी और लोहिया के विचारों को ही अपनाते हुए सामाज को आगे बढ़ाया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जेपी के विचारों से ही समाज में एकता, भाईचारा रखा जा रहा है। वहीं मुख्यमंत्री ने पिछली वर्ष की बात करते हुए कहा कि उस समय कोरोना था, लेकिन इस बार जैसे ही उन्हें आने का मौका मिला तो वह आए। उन्होंने कहा आज अगर हम यहां नहीं आते तो हमे संतोष नहीं होता। वहीं समिति को लेकर उन्होंने कहा कि इसका रेनोवेशन किया जाता है और आगे भी होता रहेगा। 

महिला चरखा समिति में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

आपको बता दें कि जेपी एक महान चिंतक राजनीतिज्ञ थे। वो आधुनिक भारत के उन प्रमुख व्यक्तियों में से एक थे, जिन्होंने भारत की राजनीति को गहन रूप से प्रभावित किया है। जयप्रकाश नारायण ने भारत में न्यायपूर्ण सामाजिक व्यवस्था की स्थापना के लिए संघर्ष किया। जेपी के मौलिक विचार आज भी अपने देश की सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक, और सांस्कृतिक समस्याओं के समाधान के लिए उचित हैं। यह जयप्रकाश नारायण ही थे जिन्होंने उस समय की सबसे ताकतवर नेता इंदिरा गांधी से लोहा लेने की ठानी और उनके शासन को हिला भी दिया। 

तेजप्रताप के 'खास' सृजन स्वराज अब तेजस्वी के साथ- https://newshaat.com/bihar-local-news/tej-pratap-special-creation-swaraj-now-with-tejashwi/cid5442083.htm