Movie prime
ड्रोन से मिली सफलता!....ट्रायल के लिए उड़ाए गए ड्रोन की मदद से पकड़ी गई शराब की भट्ठियां
 

बिहार सरकार ने शराबबंदी को पूर्ण रूप से अमल में लाने के लिए ड्रोन की सहायता लेने का फैसला लिया है। इसके तहत राज्य सरकार ने शराब की भट्ठी से लेकर शराब बिक्री के केंद्रों की तलाश के लिए ड्रोन का सहारा लेने का फैसला लिया। इसके लिए सभी जिलों में पुलिस और उत्पाद विभाग को ड्रोन उपलब्ध कराया गया है। इस सिलसिले में सारण जिले को दिया ड्रोन जब ट्रायल के लिए उड़ा तो ऐसी तस्वीरें सामने आईं जिसे देखकर पुलिस हैरान रह गई। 

दरअसल,  सारण में उत्पाद विभाग को मिले ड्रोन के ट्रायल के लिए पुलिस और उत्पाद विभाग की टीम ने रिविलगंज इलाका चुना था। मद्य निषेध विभाग की टीम रिविलगंज के पास पहुंची और दिलि‍या रहीमपुर इलाके में ड्रोन को ट्रायल के तौर पर उड़ाया। ड्रोन उड़ा और जब वापस लौटा तो उसके कैमरे में जो वीडियो रिकार्ड हुआ, उसे देख पुलिस दंग रह गए। इस वीडियो से मालूम हुआ कि रिविलगंज के पास दियारा इलाके में शराब तस्करों ने शराब बनाने का पूरा बंदोबस्त कर रखा था। दियारा का यह ऐसा सुदूर इलाका है जहां पुलिस टीम को पहुंचने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। 

ड्रोन से मिले वीडियो के आधार पर उत्पाद विभाग और पुलिस की टीम ने दियारा इलाके में धावा बोला। हालांकि, छापामारी करने गई टीम के पहुंचने से पहले शराब बानने वाले भाग चुके थे लेकिन शराब की भट्ठियां वहां मौजूद थीं। छापामार दल ने एक दर्जन से अधिक शराब की भट्ठियों को ध्वस्त किया। वहां मौजूद भट्ठियों को देखने से ही साफ लग रहा था कि काफी दिनों से शराब बनाई जा रही थी। रिविलगंज का दियारा इलाका शराब माफियाओं के लिए सबसे सुरक्षित जगह बन गया था। लेकिन ड्रोन से वह पकड़े गए। अब ऐसे में सुदूर इलाकों में ड्रोन की मांग बढ़ सकती है।

नरकटियागंज की BJP विधायक ने दिया इस्तीफा- https://newshaat.com/bihar-local-news/bjp-mla-from-narkatiaganj-resigns-citing-personal-reasons/cid6199848.htm