Movie prime
सरकार ने किया ऐलान, बिहार में NITI Aayog की तर्ज पर होगी जिलों की रैंकिंग
 

बिहार का विकास हो इसके लिए अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बड़ा कदम उठाने जा रही है। नीति आयोग के तर्ज पर वर्ष 2030 तक सतत विकास लक्ष्य को हासिल करने के क्रम में अब बिहार में जिलों की रैंकिंग की जाएगी। सतत विकास लक्ष्य के लिए निर्धारित 17 प्रमुख मानकों पर जिलों की स्थिति का मूल्यांकन किया जाएगा। सभी मानकों पर जिलों की क्या उपलब्धि रही है, इसपर उसकी रैंकिंग होगी। मकसद राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न मानकों पर बिहार की उपलब्धियों को और बेहतर करने का है।

जिलों की रैंकिंग को लेकर योजना एवं विकास विभाग की ओर से सभी जिलाधिकारी को पत्र लिखा गया है। प्रत्येक जिला को यह आदेश दिया गया है कि जिला इंडेक्स फ्रेमवर्क तैयार कराएं। विभाग ने हर मानक में जिले की क्या उपलब्धि है, इसकी समीक्षा करने को कहा है। जिलों की इंडेक्सिंग के लिए 17 मानक बनाए गए हैं।

इन मानकों में गरीबी का खात्मा, भुखमरी समाप्त करना, स्वस्थ्य जीवन सुनिश्चित करना, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, लैंगिंग समानता, सभी के लिए जल और स्वच्छता की उपलब्धता, सभी के लिए किफायती ऊर्जा, आर्थिक विकास और रोजगार, उद्योग का विस्तार, राज्यों के अंदर असामानता को कम करना, शहरों का बेहतर विकास, जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए करिवाई करना, सतत विकास के लिए शांतिपूर्ण और समावेशी समाज को बढ़ावा देना, सतत विकास के लिए वैश्विक भागीदारी को बढ़ाना।