Movie prime
Patna: नेताओं के बाद अब डॉक्टरों और जजों पर कोरोना का संकट, आचार्य किशोर कुणाल भी हुए संक्रमित
 


बिहार में तीसरी लहर का असर अब तेजी से देखने को मिल रहा है। नेता और मंत्री के बाद अब डॉक्टरों के कोरोना संक्रमित पाए जाने की खबर मिल रही है। पटना में जज से लेकर वकील और डॉक्टर से लेकर दूसरे मेडिकल स्टाफ तक लगातार संक्रमित मिल रहे हैं। शुक्रवार को पटना के 20 डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए। वहीं 6 जज और अलग-अलग न्यायालयों से जुड़े तकरीबन 28 लोग संक्रमित पाए गए हैं। बता दें कि महावीर मंदिर न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल को भी कोरोना हो गया है। किशोर कुणाल की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से वह आइसोलेशन पर चले गए हैं। 

शुक्रवार को पटना में जो नए डॉक्टर पॉजिटिव पाए गए उसमें आईजीआईएमएस के निदेशक डॉ एन आर विश्वास समेत वहां के 5 डॉक्टर शामिल हैं। डॉ विश्वास के बेटे बहू और घरेलू स्टाफ भी संक्रमित पाए गए हैं। इससे पहले भी डॉ विश्वास कोरोना से संक्रमित हुए थे। आईजीआईएमएस मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ रंजीत गुहा तीसरी बार संक्रमित पाए गए हैं। इधर, एनएमसीएच के 12 डॉक्टर और आठ अन्य स्वास्थ्य कर्मियों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। 

पीएम

पटना सिटी स्थित महिला सुधार गृह में भी कोरोना वायरस फैला गया है। यहां 51 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। पटना एम्स में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमितों का इलाज चल रहा है। एम्स में एडमिट मरीजों की संख्या अब 33 जा पहुंची गई है। दो ऐसे मरीज है जो ठीक होने के बाद शुक्रवार को डिस्चार्ज भी कर दिए गए हैं। पटना जिला के अंदर न्यायपालिका में भी कोरोनावायरस देखने को मिला है। शुक्रवार को 6 जज, दो वकील समेत 28 लोग संक्रमित पाए गए हैं। पटना सदर और पटना सिटी अनुमंडल के न्यायालयों में जांच अभियान चलाया गया था और इसी दौरान पटना सदर सिविल कोर्ट में चार जज दो वकील 12 कर्मचारी एक पक्षकार और पटना सिटी कोर्ट में 7 कर्मचारी संक्रमित पाए गए हैं। 

स्वास्थ्य विभाग में नए अधिकारियों की तैनाती- https://newshaat.com/bihar-local-news/corona-preparation-deployment-of-new-officers-in-health-dep/cid6193068.htm