Movie prime
कर्ज की वजह से पहले पिता अब पोता सहित पुरे परिवार की गई जान!
 

बिहार के समस्तीपुर जिले में एक परिवार के पांच लोगों की मौत से हड़कंप मच गया है. घटना विद्यापतिनगर थाना क्षेत्र के मऊ धनेशपुर दक्षिण गांव की है. यहां के एक परिवार के पांच लोगों के शव के छत से लटके मिले। मौत के कारणों का अभी खुलासा नहीं हुआ है। कुछ लोग इसे खुदकुशी बता रहे तो कुछ हत्या का शक जता रहे हैं। मृतकों में पति, पत्नी, मां और दो बच्चे शामिल हैं. मरने वालों में 42 वर्षीय मनोज झा, उनकी पत्नी 38 वर्षीय सुंदरमणी देवी, मां 65 वर्षीय सीता देवी और मृतक मनोज का 10 वर्षीय पुत्र सत्यम और 7 वर्षीय पुत्र शिवम शामिल हैं.

फंदे से लटकी मिली 5 लाशें

रविवार की सुबह पड़ोसियों ने घर के अंदर देखा तो वहां पांच लोग फंदे से लटके हुए थे. इसके बाद वहां आसपास के लोग जुट गए. पुलिस को बुलाया गया. पड़ोसियों के द्वारा इसे आर्थिक कलह के कारण उठाया गया कदम बताया जा रहा है. फिलहाल पुलिस हर एंगल से मामले की जांच कर रही है.

मौके पर पहुंच कर पुलिस छानबीन में जुटी गई. पुलिस ने पांचों शवों को नीचे उतरवाया और पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। DSP दिनेश कुमार पांडे ने बताया कि कुछ लोगों से पूछताछ की जा रही है. हत्या और सुसाइड, पुलिस दोनों एंगल पर छानबीन कर रही है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा.

 

परिवार के 5 लोगों के फंदे से लटकी लाश को लेकर इलाके में कई तरह की चर्चा है. ग्रामीणों का कहना है कि परिवार कर्ज में डूबा था. आर्थिक तंगी के कारण परेशान थे. परिवार ने समूह से कर्ज ले रखा था. पैसे वापस नहीं कर पाने के कारण परिवार के लोगों ने अपनी जिंदगी समाप्त कर ली. 

वारदात के बाद घर के बाहर लोगों की भीड़ जुट गई।

इसके पहले मनोज झा के पिता ने भी फांसी लगाकर अपनी जान दे दी थी. बताया जाता है कि उन्होंने अपनी बड़ी पुत्री की शादी के लिए कर्ज लिए थे. कर्ज चुका नहीं कर पाने की स्थिति में उन्होंने अपनी जान दे दी थी. अभी उनके पुत्र ने भी अपनी बहन की शादी मंदिर में की थी.