Movie prime
तेजप्रताप के 'खास' सृजन स्वराज अब तेजस्वी के साथ
 

बिहार के सबसे बड़ी राजनीतिक परिवार में वर्चस्व की लड़ाई चरम पर है. राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद के दोनों बेटे आरजेडी नेता तेजप्रताप और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी की लड़ाई अब खुलकर सामने आने लगी है. जहां तेजप्रताप ने स्टार प्रचार की लिस्ट में मां राबड़ी देवी और बहन मीसा भारती का नाम न होने पर तेजस्वी पर निशाना साधा था. तो वहीं, अब तेजस्वी ने तेजप्रताप के बेहद करीब रहे सृजन स्वराज को युवा राजद का प्रदेश उपाध्यक्ष बनवाकर अपने साथ कर लिया. 

आपको बता दे कि सृजन स्वराज वैसे तो 2015 से ही तेजप्रताप यादव के कदम से कदम मिलाकर सियासत करते नजर आ रहे थे. मगर तेजप्रताप यादव का आशीर्वाद सृजन को 2019 में तब मिला जब पटना स्थित तेजप्रताप यादव के सरकारी आवास पर आयोजित छात्र राजद की बैठक के बाद हुए चुनाव में सृजन स्वराज ने अपने प्रतिद्वंद्वी को 52 वोट से मात देकर छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी पर अपना कब्ज़ा जमाया था. 

लंबे समय तक छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष का बेहतर तरीके से बागडोर संभालने के बाद एक दिन अचानक तेजप्रताप ने छात्र राजद की वर्तमान इकाई को भंग कर दिया और इसके बाद जब तेजप्रताप ने पुनः छात्र राजद के पुर्नगठन किया तब छात्र राजद की कुर्सी तेजप्रताप ने सृजन से छीन ली, मगर वजह नहीं बताई, तब से लेकर अब तक सृजन बिना किसी पद के राजद की सेवा करते रहे थे. बहरहाल सृजन तेजस्वी के लिये कितनी मजबूत साबित होते है यह तो आने वाला वक़्त ही बतायेगा.