Movie prime
तेजप्रताप यादव ने RJD से अपनी राह अलग कर ली, नहीं की राबड़ी देवी से मुलाकात
 

राजद से मनमुटाव के बीच अब तेजप्रताप ने अपने लिए नई राह चुन ली है। तेजप्रताप यादव अपनी पार्टी 'छात्र जनशक्ति परिषद पार्टी' के बूते राजनीति में अपना पैर जमाने में लगे हैं। इस बाबत उन्होंने आज यानी कि सोमवार को जयप्रकाश नारायण की जयंती मनाई। तेजप्रताप यादव पटना के गांधी मैदान स्थित जेपी गोलंबर पहुंचे। यहां पहुंचकर उन्होंने जेपी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। वहीं दूसरी ओर मीडिया का भारी जमावड़ा राबड़ी आवास के बाहर इस फिराक में था कि तेजप्रताप जेपी की जयंती मनाने से पहले अपनी मां और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से मिलने पहुंचेंगे। हालांकि, ऐसा कुछ नहीं हुआ। राजद से नाराज चल रहे तेजप्रताप यादव अपनी मां राबड़ी देवी से मिलने नहीं पहुंचे।

दरअसल, आज तेजप्रताप जेपी की प्रतिमा के पास पहुंचे और वहां अपने समर्थकों के साथ मिलकर माल्यार्पण किया। वहीं कयास लगाया गया था तेजप्रताप जेपी गोलंबर पहुंचने के लिए जब अपने स्टैंड रोड आवास से निकलेंगे तो मां राबड़ी देवी का आशीर्वाद लेने 10 सर्कुलर आवास जाएंगे। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मीडिया का भारी जमावड़ा राबड़ी आवास के बाहर था, क्योंकि यह चर्चा थी कि तेज प्रताप रविवार की शाम पटना पहुंची अपनी मां राबड़ी देवी से मुलाकात करने जाएंगे। लेकिन यहां मीडिया के हाथ निराशा लगी।तेजप्रताप सीधे अपने तय कार्यक्रम में पहुंचे। 

गौतरलब है कि इसके पहले तेज प्रताप यादव ने पार्टी में स्टार प्रचारकों की लिस्ट और अन्य सवालों को खड़ा करते हुए यह आरोप लगाया था कि मां राबड़ी देवी और बहन मीसा भारती को भी पार्टी में सम्मान नहीं मिल रहा है। वहीं दूसरी ओर तेजप्रताप यादव ने आज आयोजित जन शक्ति यात्रा को लेकर यह कहा था कि तेजस्वी यादव अगर चाहे तो वह इस यात्रा में शामिल हो। मीडिया के जरिए उन्होंने अपने छोटे भाई तेजस्वी को यात्रा में शामिल होने का ऑफर दिया था।  

जेपी की जयंती पर CM ने किया उन्हें याद, जानिए क्या कहा- https://newshaat.com/bihar-local-news/cm-remembered-him-on-jps-birth-anniversary-said-society-is/cid5449410.htm