Movie prime
दिल्ली के जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती दौरान, दो समुदाय के बीच हुआ हंगामा
 

दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में शनिवार को हनुमान जन्मोत्सव के दौरान दो समुदायों के बीच हिंसा भड़क उठी. खबरों के मुताबिक, दो समुदाय के बीच खूब हंगामा हुआ. हनुमान जन्मोत्सव शोभा यात्रा के दौरान पथराव किया गया. इसमें पुलिसकर्मी सहित कई लोग घायल हुए हैं. घायलों को इलाज के लिए बाबू जगजीवन राम अस्पताल में भर्ती कराया गया. 

दिल्ली पुलिस पीआरओ का काम देख रहे डीसीपी अनवेयस राय का कहना है कि जहांगीर पूरी में शोभायात्रा दौरान हंगामा हुआ है. वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस के स्पेशल पुलिस कमिश्नर लॉ एंड ऑर्डर दीपेंद्र पाठक से इस मामले में बात की है. उन्होंने उनसे हिंसा के मद्देनजर जरूरी कदम उठाने का निर्देश दिया है.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ये एक पारंपरिक जुलूस था और पुलिस कर्मी सुरक्षा में तैनात थे, लेकिन कुशल सिनेमा हॉल के पास शोभा यात्रा के पहुंचते ही दो समुदायों के बीच झड़प हो गई. वहीं, हिंसा को रोकने की कोशिश में मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी घायल हो गए. शोभायात्रा में चल रहे लोगों के ऊपर पत्थरबाजी और छिटपुट आगजनी की बात सामने आई है. हमारे सभी आला अधिकारी मौके पर हैं. स्थिति नियंत्रण में हैं और अतिरिक्त फोर्स की तैनाती की गई है. इस हंगामा के दौरान किन पुलिसकर्मियों को चोट आई हैं, जिनकी पुष्टि की जा रही है. 

बता दें घटना से जुड़े कुछ वीडियो और तस्वीर भी सामने आए हैं, जिसमें पत्थरबाजी और आगजनी के बाद लोगों को भागते हुए देखा जा रहा है. आगजनी और पथराव के बीच हेलमेट पहने हुए पुलिसकर्मी हालात को काबू में लाने की मशक्कत करते देखे गए. आगजनी की घटनाओं को देखते हुए दिल्ली फायर सर्विस की भी 2 गाड़ियां मौके पर पहुंची.  

दिल्ली फायर सर्विस के डायरेक्टर अतुल गर्ग का कहना है कि घटनाएं काफी छुटपुट थीं, इसलिए वहां पर ऑपरेशन कॉल ऑफ कर दिया गया है और गाड़ियों को वापस बुला लिया गया है. आगजनी में कई वाहनों को नुकसान पहुंचा है.  

 

Jahangiripuri Violence: watch Video Delhi Hanuman birth anniversary  procession Stone pelted sub inspector injured - Jahangirpuri Violence  VIDEO: दिल्ली में हनुमान जन्मोत्सव पर निकली शोभायात्रा पर पथराव ...

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, शांति बनाए बिना देश तरक्की नहीं कर सकता. सभी लोगों को शांति व्यवस्था बनाए रखनी है. जरूरत पड़े तो एजेंसी है, पुलिस है, जिनकी जिम्मेदारी है. केंद्र सरकार की दिल्ली में जिम्मेदारी है कि शांति व्यवस्था बनाएं. मैं लोगों से भी अपील करूँगा की शांति बनाए रखें.
 

मामले पर दिल्ली के पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने कहा है कि उत्तरपश्चिम जिले में हालात अब नियंत्रण में हैं. जहांगीरपुरी और अन्य संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त बलों की तैनाती की गई है. सीनियर पुलिस अफसरों से इलाके में रहने को कहा गया है और कानून-व्यवस्था पर पैनी नजर के साथ लगातार गश्त करने को कहा गया है. उन्होंने कहा कि दंगा करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. कमिश्नर राकेश अस्थाना ने आम जनता से अफवाहों और सोशल मीडिया पर फेक न्यूज पर ध्यान न देने को कहा.