Movie prime
मानसून में इन जड़ी बूटियों से रखें खुद को सुरक्षित, होंगी कई बीमारियां दूर
Report: Sakshi
 

बदलते मौसम में कई तरह की बीमारियां होने का खतरा रहता है. खासतौर पर बरसात के सीजन में लोगों को सर्दी, जुकाम, बुखार और एलर्जी से जुड़ी समस्याएं होने का खतरा काफी ज्यादा रहता है. इसका कारण हमारी कमजोर इम्यूनिटी हो सकती है. ऐसे में मानसून में होने वाली इन समस्याओं को दूर करने के लिए इम्यूनिटी को बूस्ट करना बहुत ही जरूरी होता है. 

अगर आप इम्यूनिटी को बूस्ट करना चाहते हैं, तो इसके लिए पारंपरिक चिकित्सा पद्धति में कई तरह की जड़ी-बूटियां मौजूद हैं, जिसका इस्तेमाल करके इम्यूनिटी को बढ़ाया जा सकता है. हालांकि, अगर आप किसी गंभीर परेशानी से जूझ रहे हैं, तो एक्सपर्ट की सलाह पर ही इन जड़ी-बूटियों का सेवन करें. 

मॉनसून में फायदेमंद हैं ये जड़ी-बूटियां

गिलोय: इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए गिलोय आपकी मदद करता है. गिलोय में एंटी-माइक्रोबियल गुण पाया जाता है, जो बैक्टीरिया से लड़ने में असरदार है. इसके साथ ही गिलोय में एंटीऑक्सीडेंट होते है, जो शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थों को बाहर कर सकता है. 

Is giloy safe for immunity amid Covid-19? Ministry of Ayush answers |  HealthShots

तुलसी: इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए तुलसी की पत्तियों का सेवन करें. यह कई बीमारियों से दूर करने में फायदेमंद होती है. तुलसी के सेवन से आप खांसी, सर्दी-जुकाम और बुखार को कम कर सकते हैं. साथ ही यह आपके हृदय स्वास्थ्य के लिए भी काफी हेल्दी होता है. 

10 benefits of tulsi plant | तुलसी के ये चमत्कारी 10 फायदे नहीं जानते होंगे  आप, मौसमी बीमारियों के लिए है रामबाण | Patrika News

मुलेठी: बरसात में मुलेठी का सेवन करने से गले में खराश, जुकाम जैसी परेशानियों को कम किया जा सकता है. अगर आप बरसात में होने वाली समस्याओं से बचना चाहते हैं, तो मुलेठी का सेवन करें. यह आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकती है. 

Mulethi: A natural ingredient to cure diabetes - Times of India