Movie prime
एक बार फिर इजराइल ने बनाया सीरिया को निशाना
Report: Tamanna Ranjan 
 

सीरिया और इजराइल के बीच  हमेशा की तरह एक बार फिर टेंशन और तनाव बढ़ गई है. सीरिया के सरकारी टेलीविजन पर मंगलवार को प्रसारित खबर के अनुसार, इजराइल की मिसाइलों ने सीरिया की राजधानी दमिश्क के दक्षिण में सीरियाई सेना के ठिकानों को निशाना बनाया है. इस हमले से कैंप में मौजूद सामग्री को काफी नुकसान पहुंचा है. हालांकि किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है.

Israel Fires Missiles On Syria On Wednesday Syria Government Official  Confirmed This Attack | रूस और यूक्रेन के टेंशन के बीच इजराइल ने किया सीरिया  पर मिसाइल से हमला, सैन्य ठिकाने किए

सीरिया के सरकारी मीडिया के अनुसार, इजराइली मिसाइलों ने मई में मध्य सीरिया को निशाना बनाया, जिसमें 1 आम नागरिक सहित 5 लोगों की मौत हो गई थी. सीरिया सरकार का कहना है कि इजराइल ने पिछले कुछ वर्षों में सीरिया में सैकड़ों हमले किए हैं लेकिन उसने शायद ही कभी इस तरह के हमले को स्वीकारा है या इन पर चर्चा की है. दूसरी ओर इजराइल का कहना है कि वह ईरान को नहीं, बल्कि उससे संबद्ध मिलिशिया के ठिकानों को निशाना बनाता है.

एक अहम सवाल ये है कि आखिर इजराइल और सीरिया के बीच ऐसा क्या विवाद है जिस वजह से दोनों देश आमने-सामने रहते हैं. यहां आपको बता दें कि दोनों ही देशों के बीच काफी पुराना विवाद है. यह विवाद गोलान हाइट्स इलाके को लेकर है. यह गोलान पहाड़ी के नाम से भी फेमस है. इस इलाके पर कभी सीरिया का कब्जा था. 1967 में अरब देशों के साथ हुए युद्ध के बाद इजराइल ने इस एरिया को कब्जा लिया. वर्तमान में इजराइल यहां करीब 317 मिलियन डॉलर खर्च कर रहा है. इसी इलाके को लेकर दोनों देश आमने सामने रहते हैं.

वैसे बता दें गोलान को इजराइल इसलिए अपने पास रखना चाहता है क्योंकि यहां से सीरिया की राजधानी दमिश्क सिर्फ 60 किमी दूर है. गोलान की ऊंची पहाड़ियों से दमिश्क को आराम से देखा जा सकता है. इसके अलावा यह एरिया फसल के लिहाज से भी संपन्न है.