Movie prime
पटियाला में शिवसेना कार्यकर्ताओं और खालिस्तानी समर्थकों के बीच झड़प, खुलेआम लहराई तलवारें
 

पंजाब के पटियाला में जुलूस निकालने के दौरान दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प हुई है. इसके बाद पूरे इलाके में तनाव का माहौल बन गया. इतना ही नहीं दौरान खुलेआम तलवारें लहराई गईं और पत्थरबाजी हुई. इसके बाद से शहर में हालात बेहद तनावपूर्ण हैं. इस घटना में कई पुलिस घायल भी हुए है. वहीं इस घटना को लेकर पुलिस-प्रशासन ने शाम 7 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू लगा दिया है.

पुलिस ने रैली निकाल रहे लोगों को रोकने की कोशिश की


आपको बता दें कि पटियाला में शिवसेना कार्यकर्ताओं की ओर से खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च निकली जा रही थी. इसी दौरान खालिस्तानी समर्थकों ने शिवसेना कार्यकर्ताओं पर हमला कर दिया। वहीं देखते ही देखते ये लड़ाई हिंसा में बदल गई. वहीं जब पुलिस ने इस मामले को शांत करने की कोशिश की तो. उनलोगों ने पुलिस पर ही हमला कर दिया। इतना ही नहीं इस हिंसा के दौरान दोनों तरफ से तलवारें लहराई गईं और पथराव किया गया.

वैसे जानकारी के अनुसार पटियाला में शिवसेना के पंजाब कार्यकारी प्रधान हरिश सिंगला की देखरेख में आर्य समाज चौक से खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च शुरू हुआ. शिव सैनिक कार्यकर्ता खालिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए बढ़ रहे थे. हरीश सिंगला ने कहा कि शिवसेना कभी भी पंजाब में खालिस्तान नहीं बनने देगी और ना ही किसी खालिस्तान का नाम लेने देगी. इसी दौरान कुछ खालिस्तानी समर्थक तलवारें लहराते हुए सड़क पर आ गए और दोनों ओर से स्थिति तनावपूर्ण बन गई.  

हाथ में तलवार लिए दिखे लोग

वहां पर पहले से पुलिस मौजूद थी. पुलिस ने तुरंत बल प्रयोग करते हुए लोगों को खदेड़ दिया. इतना ही नहीं इस हिंसा में कई पुलिस घायल हुए है. वहीं SHO को हाथ में चोट लग गई. फ़िलहाल मौके पर 700 से 800 पुलिसकर्मी तैनात कर दिए हैं.