Movie prime
टाटा संस के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री का निधन, कार एक्सीडेंट में गई जान
 

टाटा संस के पूर्व चेयरमैन और बिजनेसमैन साइरस मिस्त्री का एक कार दुर्घटना में निधन (Cyrus Mistry Death) हो गया है. मुंबई के पास पालघर में उनकी कार हादसे का शिकार हो गई. साइरस मिस्त्री और चार अन्य लोग पालघर की ओर जा रहे थे, तभी उनकी कार दुर्घटना का शिकार हो गई. उनकी कंपनी के निदेशक ने उनके निधन की पुष्टि की है.

शुरुआती जानकारी के मुताबिक, 54 साल के मिस्त्री की मर्सिडीज कार कासा के पास रोड डिवाइडर से टकराई थी. टक्कर के बाद मर्सिडीज के एयरबैग भी खुले, लेकिन मिस्त्री समेत दो लोगों की मौत हो गई. कार में कुल चार लोग सवार थे. इस बीच जानकारी यह भी मिली कि हादसे का शिकार हुई मर्सिडीज कार को महिला ड्राइव कर रही थी, लेकिन पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की.

पालघर के पुलिस अधीक्षक बालासाहेब पाटिल ने बताया, 'मिस्त्री जिस कार में सवार थे, उसका नंबर MH-47-AB-6705 है. एक्सीडेंट दोपहर करीब साढ़े तीन बजे अहमदाबाद से मुंबई के रास्ते में सूर्या नदी के पुल पर हुआ. एक्सीडेंट की जानकारी मिलते ही मिस्त्री समेत सभी घायलों को कासा के अस्पताल ले जाया गया था, लेकिन वहां दो लोगों को मृत घोषित कर दिया गया. बाकी दो घायलों का इलाज किया जा रहा है.

साइरस मिस्त्री के निधन पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी समेत कई लोगों ने श्रद्धांजलि दी है. गडकरी ने लिखा- महाराष्ट्र के पालघर के पास एक सड़क दुर्घटना में टाटा संस के पूर्व अध्यक्ष साइरस मिस्त्री जी के दुर्भाग्यपूर्ण निधन के बारे में जानकर गहरा दुख हुआ. उनके परिवार के सदस्यों के प्रति हार्दिक संवेदना. भगवान उसकी आत्मा को शांति दें. ओम शांति.

साइरस पालोनजी मिस्त्री के बारे में आपको बता दें कि उनका जन्म 4 जुलाई 1968 को हुआ था. वो शापूरजी पालोनजी ग्रुप के प्रमुख पालोनजी मिस्त्री के छोटे बेटे थे. साइरस ने मुंबई के कैथेड्रल एंड जॉन कॉनन स्कूल से शुरुआती पढ़ाई की. इसके बाद वे सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए लंदन चले गए। उनके पास लंदन बिजनेस स्कूल से मैनेजमेंट में मास्टर डिग्री भी थी.

साइरस ने 1991 में अपना फैमिली बिजनेस जॉइन किया था. उन्हें 1994 में शापूरजी पालोनजी ग्रुप का डायरेक्टर नियुक्त किया गया. उनके नेतृत्व में कंपनी ने भारत का सबसे ऊंचा रेसिडेंशियल टावर, सबसे लंबा रेलवे पुल और सबसे बड़े पोर्ट का निर्माण किया. पालोनजी ग्रुप का कारोबार कपड़े से लेकर रियल एस्टेट, हॉस्पिटेलिटी और बिजनेस ऑटोमेशन तक फैला हुआ है.

दिसंबर 2012 को रतन टाटा ने टाटा सन्स के चेयरमैन पद से रिटायरमेंट ले लिया था. उसके बाद सायरस मिस्त्री को टाटा सन्स का चेयरमैन बनाया गया. टाटा के 150 साल से भी ज्यादा समय के इतिहास में साइरस मिस्त्री छठे ग्रुप चेयरमैन थे. वे टाटा सन्स के सबसे युवा चेयरमैन भी थे.