Movie prime
बिहार में IB का अलर्ट, इन आठ जिलों में तनाव फैलने की आशंका, PFI जैसे संगठन रच रहे साजिश
 

आईबी ने उत्तर बिहार के आठ जिलों को सतर्क रहने के लिए कहा है. अलर्ट में कहा गया है कि कट्टरपंथी विचारधारा वाले समूह किसी विशेष आयोजनों में हुजूम का हिस्सा बनकर शामिल हो सकते हैं और लोगों को अशांति फैलाने के लिए भड़का सकते हैं. खुफिया एजेंसी इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) ने बिहार पुलिस मुख्यालय को अलर्ट जारी किया है. आईबी ने अपनी खुफिया रिपोर्ट के जरिए पटना पुलिस को जानकारी देते हुए बताया है कि शुक्रवार की नमाज के बाद कानून व्यवस्था बिगाड़ने की साजिश रची जा सकती है. खासकर आईबी ने उत्तर बिहार के आठ जिलों को सतर्क रहने के लिए कहा है.

अलर्ट में कहा गया है कि कट्टरपंथी विचारधारा वाले समूह किसी विशेष आयोजनों में हुजूम का हिस्सा बनकर शामिल हो सकते हैं और लोगों को अशांति फैलाने के लिए भड़का सकते हैं. आईबी के इस अलर्ट में कहा गया है कि उत्तर बिहार के खासकर अररिया, किशनगंज, पूर्णिया, कटिहार, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी समेत अन्य जिलों में तनाव फैलाने के लिए पीएफआई समेत कई कट्टरपंथी संगठन साजिश रच रहे हैं. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक आईबी की रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि दंगा भड़काने के लिए नुपूर शर्मा के बयान को भी आधार बनाया जा सकता है. वहीं जानकारी के मुताबिक 24 जुलाई से अग्निवीर की परीक्षा शुरू हो चुकी है. पुलिस मुख्यालय ने सभी परीक्षा केंद्रों पर चौकसी बरतने को लेकर अलर्ट पहले ही जारी कर दिया था. कुछ जगहों पर हंगामे के आसार को देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है. वहीं आगे बता दें कि बिहार की राजधानी पटना स्थित फुलवारी शरीफ टेरर मामले की जांच की मंजूरी मिलते ही एनआईए की टीम एक्शन में आ गई है. एनआईए (NIA) ने शुक्रवार देर रात इस मामले में गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत केस दर्ज कर लिया है. बता दें कि एनआईए ने शुक्रवार रात गृह मंत्रालय (एमएचए) के काउंटर टेररिज्म एंड काउंटर रेडिकलाइजेशन डिवीजन द्वारा जारी 22 जुलाई के आदेश के बाद यह कदम उठाया है.