Movie prime
कांग्रेस नेता राशिद अल्वी का बड़ा बयान, कहा- राम का नारा लगाने वाले राक्षस
 

उत्तर प्रदेश के संभल में कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने जयश्रीराम को लेकर एक बयान दिया है. उस बयान की सोशल मीडिया पर काफी चर्चा हो रही हैं. वैसे बता दे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राशिद अल्वी ने कहा कि, श्री राम का नारा लगाने वाले मुनि नहीं, बल्कि निशिचर हैं. 

azds

आपको बता दे संभल में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने कहा कि, 'भारत के अंदर रामराज्य आना चाहिए, लेकिन रामराज्य में नफरत की कोई जगह नहीं होती है, रामराज्य में नफरत कैसे हो सकती है.' आगे उन्होंने कहा, 'आजकल कुछ लोग जयश्रीराम का नारा लगाकर लोगों को गुमराह करते हैं, ऐसे लोगों से हमें होशियार रहना चाहिए.' राशिद अल्वी ने रामायण के एक प्रसंग का जिक्र करते हुए कहा कि, 'जब हनुमानजी संजीवनी बूटी लेने के लिए हिमालय जा रहे थे, तब एक राक्षस संत की वेष में जयश्रीराम-जयश्रीराम कह रहा था.', 'जयश्रीराम सुनकर हनुमानजी रूके, तब उस राक्षस ने कहा कि जयश्रीराम बिना नहाए नहीं कहा जा सकता, हालांकि अभी कई लोग बिना नहाए ही जयश्रीराम बोलते हैं, फिर हनुमानजी नहाने गए, जहां एक श्रापित मगरमच्छ ने उन्हें पकड़ लिया, मगरमच्छ को मुक्ति मिली और उसने संत के वेष बनाए राक्षस के बारे में सच्चाई बताई.'

इतना ही नहीं आगे कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने कहा, 'आज भी कई लोग जयश्रीराम का नारा लगाते हैं, वह मुनि नहीं हैं, निशिचर इसलिए होशियार रहने की जरुरत है.' कांग्रेस नेता राशिद अल्वी का सिर्फ यह बयान ट्विटर पर खूब वायरल हो रहा है. इसके बाद राशिद अल्वी ने सफाई दी है. उन्होंने कहा कि, मैंने यह भी कहा है कि देश में सही मायने में राम राज्य आना चाहिए, जहां पर नफ़रत का नमो निशना ना हो, भाजपा की आदत है कि एक एक शब्द निकल कर उसका अनुचित प्रयोग किया जाए.