Movie prime
भवानीपुर में दिलीप घोष पर हुआ हमला, उप चुनाव को रद्द करने की मांग
 

बंगाल की हाई प्रोफाइल भवानीपुर विधानसभा सीट पर 30 सितंबर को होने वाले उपचुनाव के लिए प्रचार के आखिरी दिन सोमवार को जमकर बवाल हुआ. भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर हमले के आरोप लगाए हैं. इतना ही नहीं बंगाल के प्रदेश भाजपा ने दावा किया कि भवानीपुर में प्रचार के दौरान उनके वरिष्ठ नेता और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष पर हमला हुआ.

वहीं हमले के बाद दिलीप घोष ने भवानीपुर उपचुनाव को स्थगित कराने की मांग की है. उन्होंने टीएमसी कार्यकर्ताओं पर गुंडागर्दी के आरोप लगाए हैं. उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि मैं भवानीपुर क्षेत्र में लिफलेट देने गया था तभी वहां टीएमसी कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी. उसके बाद मैं एक सेंटर में घुसा. वहां पर लोगों ने मुझे घेरा लिया. मुझपर हमला किया गया. मेरे कार्यकर्त्ता पर हमला किया गया. इतना ही नहीं एक घंटे पहले अर्जुन सिंह के साथ भी यही सब हुआ था. यह हर रोज हो रहा है. उन्होंने कहा कि हमने पुलिस से भी सहायता मांगी थी, लेकिन हमें कोई मदद नहीं दी वहां पर एक पुलिसवाला सिविल ड्रेस में मौजूद था. उसने जब हमें बचाने की कोशिश की तो उसके साथ भी मारपीट की गई.  

आगे दिलीप घोष ने कहा कि, भवानीपुर जैसे इलाके में सीएम ममता बनर्जी रहती है, वहां पर मैंने निर्वाचन आयोग को भी शिकायत की थी. लेकिन उनकी तरफ से भी कोई कार्रवाई नहीं की गई. दिलीप घोष ने कहा, इस घटना के कुछ घंटे बाद कहा कि जिस तरीके से मुझ पर हमला हुआ और मुझे बचाने के लिए मेरे सुरक्षाकर्मियों को मजबूरी में बंदूक निकालनी पड़ी वैसी परिस्थिति में चुनाव होना संभव नहीं है. हम चुनाव आयोग से मांग कर रहे हैं कि भवानीपुर उप चुनाव को रद्द किया जाए या स्थगित किया जाए.