Movie prime
दिल्ली प्रदूषण को लेकर गोपाल राय बोले- लोगों ने पटाखे जलाए, इसके पीछे BJP जिम्मेदार
 

दिवाली के अगले दिन दिल्ली में  दम घुटता नजर आया.  राजधानी की हवा सांस लेने लायक नहीं बची. दिल्ली-NCR में दिवाली पर खूब पटाखे जलाए जाने के बाद शुक्रवार को सुबह घने कोहरे की मोटी परत छायी रही जिसके कारण कई हिस्सों में लोगों को गले में जलन और आंखों में पानी आने की दिक्कतों से जूझना पड़ा. अब इसको लेकर दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली में कुछ लोगों ने खास मकसद से पटाखे जलाए, इसके पीछे भाजपा है. 

आपको बता दे कि दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि, दिल्ली में पिछले तीन दिनों से प्रदूषण का स्तर बढ़ा है. इसके पीछे दो कारण हैं. एक तेजी से पराली जलने की घटनाएं बढ़ी हैं. 3,500 जगहों पर पराली जलने की घटनाएं हो रही हैं. कुछ लोगों ने दीपावली पर जानबूझकर पटाखे जलाए जिसके कारण भी AQI स्तर बढ़ा है. इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा, भाजपा के नेताओं ने हर समय बयान दिए कि पटाखे जलाने से कुछ नहीं होता है, यह धर्म और त्योहार का मामला है. अब सभी वैज्ञानिक कह रहे हैं कि पटाखों से प्रदूषण होता है. दो दिन पहले हवा की जो गुणवत्ता थी, वह आज नहीं है.

वैसे बता दे आपको दिल्‍ली सरकार ने प्रदूषण को रोकने के लिए 27 अक्टूबर को ‘पटाखे नहीं दीये जलाओ’ अभियान शुरू किया था. जबकि दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति ने 28 सितंबर को राष्ट्रीय राजधानी में 1 जनवरी 2022 तक पटाखों की बिक्री और उनके जलाने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी किया था. वहीं, दिल्‍ली में पटाखे जलाने में संलिप्त पाये जाने वाले किसी भी व्यक्ति के खिलाफ भारतीय दंड संहिता के संबद्ध प्रावधानों और विस्फोटक अधिनियम के तहत कार्रवाई की चेतावनी भी दी गई थी.