Movie prime
अध्यक्ष पद से इस्तीफा देना इस बार नवजोत सिंह सिद्धू को पड़ सकता है महंगा, पार्टी आलाकमान ने की बातचीत बंद
 

पंजाब में सियासी घमासान के बीच प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष से इस्तीफा देना इस बार नवजोत सिंह सिद्धू को महंगा पड़ सकता है. सूत्रों की मानें, तो पार्टी आलाकमान सिद्धू के रवैये से बेहद नाराज है और इसको लेकर अब तक दोनों पक्ष में कोई बातचीत नहीं हुई है. माना जा रहा है कि पार्टी सिद्धू को नहीं मनाएगी. इतना ही नहीं पार्टी ने पंजाब में नए प्रदेश अध्यक्ष के लिए मंथन भी शुरू हो गया है.

आपको बता दे कि पंजाब कांग्रेस के प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू का इस्तीफा देना पंजाब के कई कैबिनेट मंत्रियों को नागवार गुजरा है. अधिकतर मंत्री सिद्धू के इस तरह इस्तीफा देने से खासे नाराज हैं। इतना ही नहीं कांग्रेस आलाकमान ने अभी तक नाराज सिद्धू का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है. वहीं आज पंजाब प्रभारी हरीश रावत चंडीगढ़ जाने वाले थे मगर फिलहाल उनका दौरा भी टल गया है, जिसके बाद यह स्पष्ट है कि इस बार कांग्रेस नवजोत सिंह सिद्धू की ओर से हुई किरकिरी को बर्दाश्त नहीं करेगी.

बता दें कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के विरोध के बावजूद सिद्धू को इसी साल 23 जुलाई को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया था. सिद्धू के इस्तीफे के बाद उनके समर्थन में चन्नी सरकार के मंत्री सहित कई बड़े नेताओं के इस्तीफों की झड़ी लग गई. सिद्धू के करीबी माने जाने वाली एक मंत्री के साथ ही अन्य तीन कांग्रेसी नेताओं ने मंगलवार को इस्तीफा दे दिया.