Movie prime
लखीमपुर हिंसा की धमक उत्तराखंड में भी देखने को मिली, किसानों को देख कैबिनेट मंत्री ने रद किया कार्यक्रम
 

लखीमपुर खीरी हिंसा की धमक उत्तराखंड में भी देखने को मिल रही है जिसका खमियाजा बीजीपी नेताओं को भुगतना पड़ रहा है. जी हां किसानों के विरोध के चलते कैबिनेट मंत्री अरविद पांडे का मिनी स्टेडियम के शिलान्यास का कार्यक्रम रद करना पड़ा.

आपको बता दे कि कैबिनेट मंत्री अरविद पांडे को गुरुवार को ग्राम खेमपुर में खेल विभाग राज्य सेक्टर के अंतर्गत खेमपुर गदरपुर ऊधमसिंह नगर में चार करोड़ 28 लाख 76 रुपये के बहुद्देश्यीय क्रीड़ा हाल के निर्माण कार्य का शिलान्यास करना था. किसान संयुक्त मोर्चा के बैनर तले तराई किसान संगठन के प्रदेश अध्यक्ष सलविदर सिंह कलसी के नेतृत्व में सैकड़ों किसान मंत्री के इस कार्यक्रम का विरोध करने ग्राम खेमपुर पहुंच गए. यहां पहुंच कर सारे किसान नारेबाजी करने लगे. इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि किसी भी हालत में कैबिनेट मंत्री को शिलान्यास करने नहीं दिया जाएगा.

वहीं जब इस बात की जानकारी सीओ वंदना वर्मा को हुई तो उन्होंने तुरंत कई थानों की पुलिस को मौके पर भेज दिया. वहीं पुलिस ने किसानों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन किसान नहीं माने. तराई किसान संगठन के प्रदेश अध्यक्ष सलविदर सिंह कलसी ने कहा कि लखीमपुर खीरी में किसानों की चिता की आग ठंडी नहीं पड़ी और उनकी अंतिम अरदास पूरी नहीं हुई. क्षेत्र के किसानों में शोक की लहर है, लेकिन कैबिनेट मंत्री शिलान्यास कार्यक्रम कर रहे हैं. उन्हें इस तरह के कार्यक्रम नहीं करने चाहिए. 

फिर क्या कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय ने अपना कार्यक्रम रद्द कर वर्चुअल मोड़ में शिलायन्स किया. वहीं मंत्री के बेटे अतुल पांडेय ने बताया कि क्षेत्र में 4 करोड़ 28 लाख की लागत से इंडोर स्टेडियम का खेल मंत्री अरविंद पांडेय द्वारा वर्चुअल मोड पर शिलान्यास किया, उन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम में शामिल होना था, इसलिए वह कार्यक्रम में नहीं पहुंच पाए.