Movie prime
पाकिस्तानी मौलाना अली ने किया नूपुर शर्मा का समर्थन
Report: Sakshi
 

पैगंबर मोहम्मद पर नुपूर शर्मा के विवादित बयान के मामले पर लगी आग थमने का नाम नहीं ले रही है. दिल्ली के जामा मस्जिद में जुमे की नमाज के बाद मस्जिद के अंदर कुछ लोगों ने नारेबाजी करने का प्रयास किया. जिसके बाद शाही इमाम बुखारी ने कहा कि, "ये गलत है, कोई भी शख्स ऐसी हरकत न करें ये बर्दाश्त के बाहर होगी. 

news haat

आपको बता दें कि जामा मस्जिद के लोग अमन चाहते हैं, और किसी भी तरह की नारेबाजी नहीं देखना चाहते है. वहीं, इस मसले पर डीसीपी सेंट्रल श्वेता चौहान ने बताया कि, "हमें फिलहाल इस घटना की जानकारी नहीं है, मस्जिद के अंदर क्या हुआ और इमाम साहेब ने जो ऐलान किया इस मामले की जानकारी ले रही हूं. फिलहाल, मस्जिद के अंदर और बाहर शांति व्यवस्था बनी हुई है.

बता दें देश विदेश हर जगह नुपूर शर्मा के इस बयान की चर्चा हो रही है और विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं. बहुत से लोग नुपूर शर्मा के समर्थन में भी आए हैं. वहीं इस बार उनको पाकिस्तान से समर्थन मिला है. यहां के एक मौलवी ने नुपूर शर्मा का समर्थन किया है. मौलवी ने कहा, पूरे मामले में नूपुर शर्मा को ही दोषी ठहराया जा रहा है. मौलाना अली ने कहा कि मुस्लिम पैनल‍िस्‍ट ने पहले नूपुर शर्मा को भड़काया और इसके जवाब में बीजेपी की निलंबित नेता ने पैगंबर के बारे में टिप्‍पणी की.

news haat

मौलाना अली ने कहा कि पहला मुजरिम वह मुसलमान है ज‍िसने किसी के धर्म के बारे में लाइव टीवी में बात की है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हमें इस पूरे विवाद में पूरे माहौल को देखना होगा. नूपुर शर्मा के बयान के अंदाज से यह पता चल जाएगा कि वह पलटवार कर रही है. आगे उन्होंने कहा कि वहीं दूसरे धर्म के लोगों के साथ बहस करते समय हमें भाषा का ध्‍यान रखना चाहिए और अल्‍लाह ने हमें इसका संदेश दिया है.

news haat