Movie prime
देश की 15वीं राष्ट्रपति के रूप में द्रौपदी मुर्मू ने लिया शपथ, जताया सबका आभार
 

द्रौपदी मुर्मू ने आज 15वीं राष्ट्रपति के रूप में शपथ ग्रहण ले ली हैं. भारत के प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति एनवी रमण ने उन्हें संसद भवन के ऐतिहासिक सेंट्रल हाॅल में राष्ट्रपति पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. जानकारी के लिए बता दें मुर्मू देश की दूसरी महिला राष्ट्रपति हैं, सर्वोच्च संवैधानिक पद संभालने वाली पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति हैं.

15th President Of India: देश की 15वीं राष्ट्रपति बनीं द्रौपदी मुर्मू, शपथ ग्रहण के साथ ही बन गया इतिहास

आपको बता दें कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू शपथ ग्रहण करने के बाद उन्होंने लोगों को संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा- सभी भारतीयों की अपेक्षा और आकांक्षाओं और अधिकारों के प्रतीक, संसद में खड़े होकर मैं आप सभी का नम्रतापूर्वक आभार व्यक्त करती हूं. इस नई जिम्मेदारी को निभाने के लिए आपका विश्वास और समर्थन मेरे लिए एक बड़ी ताकत होगी. द्रौपदी मुर्मू ने पीएम नरेंद्र मोदी, केंद्रीय मंत्रियों, कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और अन्य गणमान्य लोगों का आभार व्यक्त किया, जो संसद के सेंट्रल हॉल में उनके शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए.

Draupadi Murmu — from school teacher to presidential candidate

बता दें द्रौपदी मुर्मू का जन्म 20 जून 1958 को हुआ था. मुर्मू झारखंड की राज्यपाल रह चुकी हैं और लंबे समय से भाजपा से जुड़ी रही हैं. आदिवासी समुदाय संथाल से संबंध रखने वाली द्रौपदी मुर्मू BA तक पढ़ी हुई हैं. उन्होंने भुवनेश्वर के रमादेवी महिला कॉलेज से यह डिग्री हासिल की थी. द्रौपदी मुर्मू 1997 में रायरंगपुर से नगर पंचायत पार्षद बनीं. इसके बाद वह 2 बार ओडिशा के रायरंगपुर से विधायक भी रहीं. साथ ही भाजपा और बीजू जनता दल की गठबंधन सरकार में मंत्री भी रहीं.