कोरोना काल के बीच विश्व विख्यात सोनपुर मेला को लेकर बड़ी खबर, जानिए क्या है अपडेट

  • द्वारा

कोरोना को देखते हुए इस साल बिहार राज्य पर्यटन विकास निगम की ओर से विश्व विख्यात सोनपुर मेला को लेकर किसी तरह का आयोजन नहीं किया जा रहा है. यह एशिया का सबसे बड़ा पशु मेला हैं. यह मेला कार्तिक पूर्णिमा पर स्नान के बाद शुरू होता है. एक माह तक चलने वाला यह मेला धार्मिक और व्यवासायिक गतिविधियों के लिए प्रसिद्ध है. पर्यटन निगम हर साल सोनपुर में देशी-विदेशी पर्यटकों को लुभाने के लिए कॉटेज तैयार करवाता है, लेकिन इस बार कॉटेज निर्माण के लिए टेंडर नहीं निकाला गया है. निगम के अधिकारियों ने बताया कि अगर निगम की ओर से कॉटेज का निर्माण करना होता तो अब तक टेंडर निकलने के साथ निर्माण कार्य शुरू हो जाता.

इस संबंध में पर्यटन निगम के प्रबंध निदेशक प्रभाकर ने बताया कि कॉटेज निर्माण या अन्य तैयारियों को लेकर पर्यटन निदेशालय की ओर से कोई आदेश नहीं है. कोरोना काल में विश्व प्रसिद्ध हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेला लगने या नहीं लगने को लेकर संशय बरकरार था, लेकिन नयी सरकार के भूमि सुधार एवं राजस्व मंत्री रामसूरत राय साफ कर दिया है कि इस वर्ष कोरोना को लेकर श्रावणी मेला और गया का पितृपक्ष मेला नहीं लगा. ऐसे में हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेला भी नहीं लगेगा.

https://youtu.be/J9sJ41t5k5Q