Movie prime
जीतनराम मांझी की मांग, देश में हर तरह के धार्मिक जूलूस पर लगा दी जाए रोक
 

देश की राजधानी दिल्ली के जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती पर निकाली गई शोभायात्रा पर हमला हुआ. इसकी जांच के लिए दिल्ली पुलिस ने 10 टीमें गठित की हैं. इसे लेकर अब सियासत भी तेज हो गई है. अब बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने धार्मिक जुलूस पर रोक लगाने की मांग की है. जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती के मौके पर निकली शोभायात्रा के दौरान हुई हिंसा के बाद जीतनराम मांझी ने कहा है कि अब वक्त आ गया है कि देश में हर तरह के धार्मिक जुलूस पर रोक लगा दी जाए. 

Ram wasn't God, was character in story': Former Bihar CM Jitan Ram Manjhi -  India News

आपको बता दे कि जीतनराम मांझी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, अब वक्त आ गया है जब देश में हर तरह के धार्मिक जूलूस पर रोक लगा दी जाए. धार्मिक जूलूसों के कारण देश की एकता और अखंडता खतरे में पड़ती दिखाई दे रही है.  इसे तुरंत रोकना होगा. इतना ही नहीं इस ट्वीट के साथ मांझी ने  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को टैग भी किया है.

वैसे बता दे मांझी हमेशा अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहते है हाल ही में उन्होंने भगवान राम को लेकर विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि,  राम भगवान थोड़े ही थे, वह तो तुलसीदास और वाल्मीकि रामायण के पात्र थे. रामायण में बहुत सी अच्छी बातें लिखी हैं, इसलिए हम उसे मानते हैं, पर राम को नहीं मानते हैं. उन्होंने अनुसूचित जाति के लोगों से अपील की कि उन्हें पूजा-पाठ करना बंद कर देना चाहिए. उन्होंने कहा था कि जो ब्राह्मण मांस और शराब पीते हैं, झूठ बोलते हैं, उनसे दूर रहना चाहिए. उनसे पूजा-पाठ नहीं कराना चाहिए.

Read more at: https://newshaat.com/national-news/Lakhimpur-violence-case-Ashish-Mishras-bail-canceled-by-Sup/cid7177093.htm