Movie prime
मुख्यमंत्री ने दिया आदेश, IGIMS में पहली बार होगा जीनोम सीक्वेंसिंग टेस्ट
 


बिहार के इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंस (आईजीआईएमएस) में कोरोना संक्रमितों में ओमिक्रोन वैरिएंट का पता लगाने के लिए जीनोम सीक्वेंसिंग जांच शुरू हो गई है। अब ओमिक्रोन के जीनोम सीक्वेसिंग के लिए ज्यादा पॉजिटिव मरीजों के सैंपल का इंतजार नहीं करना पड़ेगा और ना ही लंबे समय का इंतजार करना पड़ेगा। बता दें कि इससे पहले जीनोम सीक्वेसिंग के टेस्ट के लिए सैंपल को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के एनसीडीएस लैब में भेजना पड़ता था। 

वहीं अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश के बाद आईजीआईएमएस में यह जांच आज से शुरू हो गई है। इसके लिए सबसे पहले 25 सैंपल की सिक्वेंसिंग शुरू हुई है। अब 7 दिनों के भीतर रिपोर्ट मिल जाएगी। मालूम हो कि कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन ने बिहार में दस्तक दे दी है। पटना में ओमिक्रॉन का एक मरीज मिला है। ये मरीज पटना के किद्वैपुरी स्थित आईएएस कॉलोनी का रहने वाला है। ओमिक्रोन के मरीज मिलने तक राज्य में जीनोम सीक्वेसिंग जांच की सुविधा नहीं थी। वहीं इस समस्या को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री ने अधिकारियों की बैठक बुलाई थी। मुख्यमंत्री ने सबसे पहले पटना में ही ओमिक्रोन के टेस्टिंग की जल्द से जल्द व्यवस्था करने का निर्देश दिया।

पीएम

गौरतलब है कि बिहार में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं,  बिहार में शनिवार को  कोरोना के 281 नए मामले सामने आए हैं। वहीं एक्टिव मरीजों की संख्या अब 749 हो गई है। सबसे ज्यादा मरीज पटना में मिले हैं। पटना में 136 कोरोना के नए संक्रमित मिले हैं। वहीं गया में 70 नए मरीज मिले हैं। कोरोना के बढ़ते संख्या को लेकर राज्य सरकार अलर्ट पर है। मुख्यमंत्री लगातार सभी चीजों पर ध्यान बनाए हुए हैं। हालांकि, राज्य के स्कूलों को बंद किए जाने और ऑनलाइन मोड में किए जाने को लेकर उन्होंने कहा कि अभी इसकी जरूरत नहीं है। अभी बिहार में इतनी खराब स्थिति नहीं है।

वहीं अब राज्य के डॉक्टर भी कोरोना से सुरक्षित नजर नहीं आ रहे हैं। एक खबर के अनुसार, एनएमसीएच के 12 से अधिक डॉक्टरों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। एनएमसीएच के इमरजेंसी वार्ड में सभी डॉक्टरों की कोरोना जांच हुई थी। जांच में 12 से अधिक डॉक्टरों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। इसके बाद से अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। बता दें कि जिन डॉक्टरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है उनमें इंटर्न, शिशु विभाग, ऑर्थो सहित कई विभाग के डॉक्टर शामिल हैं। एनएमसीएच के अधीक्षक डॉ. विनोद कुमार सिंह ने इस बात की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि आज एनएमसीएच के गर्ल्स हॉस्टल में कोरोना जांच के लिए कई डॉक्टरों का सैंपल आज लिया जाएगा। बता दें कि बीते सोमवार को पटना के बापू सभागार में आईएमए का दो दिवसीय 96वां राष्ट्रीय अधिवेशन हुआ था। इसमें 5 हजार से ज्यादा डॉक्टर शामिल हुए थे। कार्यक्रम के समापन के मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, विजय कुमार चौधरी समेत कई मंत्री भी शामिल हुए थे। 

बताते चलें कि देश में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के केस भी तेजी से बढ़ रहे हैं। देश के 23 राज्यों में अब तक 1525 केस सामने आ चुके हैं। हालांकि, इनमें से 560 मरीज ठीक हो चुके हैं। सबसे ज्यादा 460 केस महाराष्ट्र में दर्ज किए गए हैं। इसके बाद 351 मरीजों के साथ दिल्ली दूसरे नंबर पर है। गुजरात में 136 मरीज मिले हैं। 

JDU प्रवक्ता ने झारखंड की तर्ज पर तेजस्वी को दी नसीहत- https://newshaat.com/bihar-local-news/jdu-spokesperson-gave-advice-to-tejashwi-on-the-lines-of-jh/cid6157588.htm