Movie prime
PM मोदी के फैसले पर CM का बयान, कहा- " हम कुछ बोल नहीं सकते "
 

कृषि कानूनों की वापसी को लेकर बिहार की सियासत गरमा गई है। जहां एक ओर सभी विपक्षी पार्टियां केंद्र सरकार के इस फैसले पर प्रतिक्रिया दे रही है। वहीं दूसरी ओर सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी इस पर प्रतिक्रिया दी है। नीतीश सरकार ने केंद्र सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है। हालांकि, नीतीश कुमार इस पर बहुत अधिक बोलने से बचते दिखे हैं। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर कानून के दो पहलू होते हैं। कुछ लोग समर्थन में खड़े होंगे और कुछ लोग विरोध में। यहां भी ऐसा हुआ।  मुख्यमंत्री ने कहा, " प्रधानमंत्री ने यह कानून लाया। अब इसे लेने का फैसला भी केंद्र सरकार का है। इस पर हम कुछ बोल नहीं सकते। " उन्होंने कहा कि हमारे यहां हमेशा से किसानों का सम्मान होता था। 

वहीं जातीय जनगणना को लेकर एक बार फिर कहा कि हमलोग जल्द ही जातीय जनगणना को लेकर बैठक करेंगे और इस पर सर्वसम्मति से निर्णय लिया जाएगा। वहीं बिहार में शराबबंदी कानून पर उन्होंने कहा कि कुछ लोग शुरू से ही इस कानून के खिलाफ हैं। लेकिन इसे और भी सख्ती से लागू किया जाएगा। शराबबंदी को लेकर अभियान चलाया जाएगा। इसे लेकर लोगों को जागरुक किया जाएगा। 

सफल नहीं हुई केंद्र सरकार तो किसानों के आगे झुकना पड़ा: लालू यादव- https://newshaat.com/bihar-local-news/if-the-central-government-did-not-succeed-then-the-farmers/cid5786444.htm

कृषि कानून पर CM की प्रतिक्रिया- https://youtu.be/4AkTSZoTGzs