Movie prime
आजादी वाले बयान पर कंगना के खिलाफ पटना में Congress ने किया केस दर्ज
 

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के आजादी वाले विवादित बयान को लेकर मचा घमासान अब थमने का नाम नहीं ले रहा है। स्वतंत्रता सेनानियों के बदौलत 1947 में मिली आजादी को भीख बताकर बॉलीवुड अदाकारा अब बुरी तरह फंस गई हैं। बिहार के विभिन्न जिले में अभिनेत्री के खिलाफ प्रदर्शन किया जा रहा है। शुक्रवार को मुजफ्फरपुर जिला में लोगों द्वारा शहीद स्मारक स्थल से एक आक्रोश मार्च निकाली गई। इस दौरान आजादी वाले बयान से नाराज लोगों ने अभिनेत्री की तस्वीर पर कालिख पोती और विरोध जताते हुए पुतला दहन कर उनसे पद्मश्री वापस लेने की मांग की। कुछ ऐसा ही हाल दरभंगा का भी है जहां लोगों में कंगना के बयान को लेकर काफी आक्रोश दिखा। वहीं बिहार कांग्रेस की ओर से राजधानी पटना के एस.के.पुरी थाने में कंगना के खिलाफ केस दर्ज कराया गया। बिहार कांग्रेस ने इसके साथ ही पद्म श्री वापस लेने की मांग की है। 

कांग्रेस की ओर से जो शिकायत दर्ज की गई है उसमें लिखा गया है कि विगत दिनों देश की मशहूर अभिनेत्री कंगना रनौत ने एक मीडिया सम्मेलन में देश को लेकर एक विवादित बयान दिया, जिसमें उन्होंने कहा, "  सन 1947 में भारत को जो आजादी मिली थी वह महज भीख थी और देश को असली आजादी 2014 के बाद मिली है।"  कंगना का यह बयान देश की अखंडता, संप्रभुता और गौरवशाली इतिहास पर बड़ा सवाल खड़ा करता है। इस देश में रहने वाले तमाम लोगों की भावना शहीद स्वतंत्रता सेनानियों से जुड़ी है। लोग इनके संघर्ष का सम्मान करते हैं। बिहार कांग्रेस ने लिखा कि यह देश महात्मा गांधी का देश है, यह देश भगत सिंह, नेहरू, सरदार पटेल का देश है।

शिकायत

बता दें कि दरभंगा जिले के पूर्व विधायक ऋषि मिश्रा, कांग्रेस कमिटी सदस्य शंकर स्वरूप पासवान, पूर्व महासचिव आसिफ गफूर, कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता राकेश कुमार, पूर्व लोकसभा प्रत्याशी शाश्वत केदार पांडेय द्वारा कंगना रनौत के खिलाफ पटना के एस.के.पुरी थाने में केस दर्ज किया गया है। कांग्रेस ने न्यायालय और देश की संवैधानिक संस्थाओं से यह अपील की है कि ऐसी बयानबाजी के ऊपर संज्ञान लिया जाए और बयान देने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाए। 

रिंटू सिंह मामले में मंत्री लेसी सिंह पर लगा आरोप- https://newshaat.com/bihar-local-news/minister-lacey-singhs-name-came-in-rintu-singh-case/cid5750552.htm