Movie prime
बिहार में कोरोना का ग्रहण, एक बार फिर बने लॉकडाउन के हालात
 

दुनिया भर में कोरोना ने आतंक मचा रखा है। विभिन्न देशों की तरह भारत भी इसकी चपेट में आ चुका है। कोरोना की पहली और दूसरी लहर का दंश तो हमने झेल लिया और अब भारत में भी कोरोना का यह नया वेरिएंट ओमिक्रोन तेजी से पैर पसार रहा है। वहीं बिहार में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ता देख कल शाम क्राइसिस मैनेजमेंट की टीम ने बैठक की थी। इस बैठक की अध्यक्षता मुख्यमंत्री ने की थी। बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने मंगलवार शाम नई गाइडलाइन जारी कर दी है। राज्य में अभी अनलॉक-11 के तहत जारी गाइडलाइंस आज तक लागू हैं। वहीं, नई गाइडलाइन कल यानी गुरुवार 6 जनवरी से लेकर 21 जनवरी तक प्रभावी रहेंगी। 

रेस्तरां

इस गाइडलाइन के तहत राज्य भर में रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। एक बार फिर से सभी धार्मिक स्थल, सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, क्लब, स्विमिंग पूल, स्टेडियम, जिम, पार्क और उद्यान को आम लोगों के लिए पूरी तरह बंद कर दिया गया है। 8वीं तक के सभी स्कूल और कोचिंग संस्थान बंद कर दिए गए हैं। सभी दुकानें रात 8 बजे तक ही खुल सकेंगी। आइये हम आपको सिलसिलेवार बताते हैं कि इस गाइडलाइन में क्या है। 

सभी दुकानें और प्रतिष्ठान रात 8 बजे तक ही खुले रहेंगे। वहीं मंदिर और अन्य सभी धार्मिक स्थल आम जनों के लिए बंद रहेंगे। सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, क्लब, स्विमिंग पूल, स्टेडियम, जिम, पार्क और उद्यान पूरी तरह बंद रहेंगे। रेस्टोरेंट्स और होटल अधिकतम 50 % क्षमता के साथ खुलेंगे। प्री स्कूल से 8 वीं कक्षा के विद्यालय और कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। 9 वीं और उच्चतर कक्षाओं वाले विद्यालय और कोचिंग संस्थान 50 % उपस्थिति के साथ खुलेंगे। बात करें शादियों की तो शादी की सूचना 3 दिन पहले थाने में देनी होगी। शादी में डीजे और बारात-जुलूस की इजाजत नहीं होगी। शादी, अंतिम संस्कार और श्राद्ध कार्यक्रम में 50 व्यक्तियों की सीमा रहेगी। 

पटना का हनुमान मंदिर
पटना का महावीर मंदिर 

वहीं सरकार ने परिवहन विभाग को यह आदेश दिया है कि वह सुनिश्चित करें कि सार्वजनिक वाहनों में ओवर क्राउडिंग न हो। सभी यात्रियों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा। वहीं सभी प्रकार के आयोजन जैसे कि मेला और प्रदर्शनी के आयोजन पर प्रतिबंध रहेगा। आयोजन के लिए प्रशासन की अनुमति अनिवार्य है। सामाजिक, राजनीतिक, मनोरंजन, खेलकूद, शैक्षणिक-सांस्कृतिक और धार्मिक आयोजन में 50% क्षमता एवं अधिकतम 50 व्यक्तियों की सीमा रहेगी। 

बिहार में कोरोना एक बार फिर लगभग सभी जिलों में पहुंच गया है। मंगलवार शाम तक मिले आंकड़ों के अनुसार सिर्फ गोपालगंज और शेखपुरा में कोई एक्टिव केस नहीं है। वहीं, राजधानी पटना हाट स्पॉट बन गया है। मंगलवार के ताजे आंकड़ों में पिछले 24 घंटे के दौरान 893 नए केस आए हैं। इनमें 565 अकेले पटना में ही हैं। इनमें 2 से लेकर 17 साल के बीच के लगभग 40 बच्चे भी शामिल हैं। इसके साथ ही राज्य में एक्टिव मामलों की संख्या बढ़कर 2222 हो गई है।  पटना एम्स में डॉक्टर-स्टाफ समेत 14 लोगों के पॉजिटिव पाए जाने के बाद ओपीडी सेवा को सीमित कर दिया गया है। वहीं कल जदयू कार्यालय में पांच कर्मचारी संक्रमित हो गए थे जिसके बाद पार्टी ऑफिस में ताला लग गया था। कल ही जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह कोरोना पॉजिटिव हो गए। वहीं आज खबर है कि दोनों उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी समेत 4 मंत्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। 

नीतीश कैबिनेट में फटा कोरोना का 'बम'- https://newshaat.com/bihar-local-news/coronas-bomb-explodes-in-nitish-cabinet-4-ministers-includi/cid6174304.htm