Movie prime
ADJ पर हुए हमले को लेकर हाईकोर्ट सख्त, मुख्य सचिव और DGP को नोटिस
 

इस वक्त की बड़ी खबर बिहार के मधुबनी जिले से आ रही है। मधुबनी जिले में थानेदार और दारोगा जज के चेंबर में घुस गए। दोनों ने पिस्टल की नोंक पर जज के साथ मारपीट की। शोर सुनकर वहां मौजूद वकील जब जज के चेंबर में घुसे तो उन्होंने जज की जान बचाई। इसके बाद वकीलों ने थानेदार और दारोगा को कोर्ट में ही बंधक बना लिया। बता दें, गुंडई का शिकार हुए यह वही जज हैं जिन्होंने मधुबनी के एसपी सत्यप्रकाश को कानून की जानकारी न होने की कड़ी टिपण्णी करते हुए उन्हें ट्रेनिंग के लिए भेजने का आदेश दिया था। 

दरअसल, घटना मधुबनी जिले के झंझारपुर कोर्ट परिसर की है। मिली जानकारी के अनुसार, कल दोपहर करीब दो बजे एक वकील ने एडीजे अविनाश कुमार के चेंबर से शोर शराबा होते सुना। शोर-शराबा और गाली की बात सुनकर वकील जब जज के चेंबर के अंदर आए तो उन्होंने देखा दो वर्दीधारी पिस्टल लिए जज के साथ से मारपीट कर रहे थे। वहीं बीच बचाव में आए एक अन्य कर्मचारी चंदन कुमार के साथ भी दोनों पुलिसकर्मियों ने मारपीट की। इन वर्दीधारी में एक थानेदार गोपाल कृष्ण है और दूसरा एएसआई अभिमन्यु कुमार। 

एड

इधर, अब इस मामले में पटना हाईकोर्ट ने संज्ञान लेते हुए राज्य के मुख्य सचिव, डीजीपी, गृह विभाग के प्रधान सचिव एवं मधुबनी के एसपी को नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने कहा कि इस तरह की घटना न्यायपालिका के स्वतंत्रता को खतरे में डालता है। पटना हाईकोर्ट ने मामले की संवेदनशीलता और गंभीरता को देखते हुए बिहार के डीजीपी को स्वयं कोर्ट में उपस्थित होने का निर्देश दिया है। " 

बिहार की सबसे कम उम्र की मुखिया- https://newshaat.com/bihar-local-news/the-youngest-chieftain-of-bihar%E2%80%A6-will-work-for-the/cid5781630.htm