Movie prime
जश्न -ए-फेल्योर: CM नीतीश कुमार के रंग में भंग, तेजस्वी यादव ने सवालों के जरिए साधा निशाना
 

बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कार्यकाल को 16 वर्ष पूरे होने वाले हैं। इस उपलक्ष्य में आज जदयू की ओर से जश्न मनाया जा रहा है। 16 साल पहले 2005 में बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में जदयू-भाजपा की साझा सरकार बनी थी। तब से हर साल सरकार की सालगिरह पर एनडीए गर्वमेंट की उपलब्धियां गिनाई जाती हैं। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने जदयू की तरफ से किए जा रहे आयोजन को नाकामयाबी का जश्न करार दिया है। तेजस्वी यादव ने जदयू की तरफ से किए जा रहे आयोजन को जश्न -ए-फेल्योर बताया है। यही नहीं तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री से 21 सवाल भी पूछे हैं। 

तेजस्वी यादव ने कहा कि विगत 16 वर्षों से सभी क्षेत्रों और मानकों में राज्य को फिसड्डी साबित कर देश में बिहार को सबसे निचले पायदान पर पहुंचाने वाले तीसरे नंबर की पार्टी के देश में एकमात्र मुख्यमंत्री आज अपनी नाकामयाबी का “जश्न-ए-फेल्योर” मना रहे हैं। इसी के साथ उन्होंने मुख्यमंत्री से 21 सवाल भी पूछे और कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि नीतीश कुमार उनके सभी सवालों का जवाब देंगे। तेजस्वी यादव के 21 सवाल कुछ इस तरह हैं- 

1. नीतीश कुमार बिहार की 60 फीसदी आबादी अर्थात् युवाओं को जवाब दें कि उनके 16 वर्षों के शासन के बाद भी आज बिहार पूरे देश में गरीबी और बेरोजगारी का मुख्य केंद्र क्यों बना हुआ है? क्यों युवाओं को अपनी योग्यता और शिक्षा के नीचे जाकर दूसरे प्रदेशों में अपमानित होकर काम ढूंढने पर विवश होना पड़ता है?

2. अपनी हर नाकामी के लिए पिछली सरकारों पर ठीकरा फोड़ने से पहले नीतीश कुमार अपने 16 वर्षों का लेखा जोखा दें। बिहारवासियों को बताएं कि क्यों बिहार के हर दूसरे परिवार का कमाऊ पूत दूसरे राज्य में पलायन कर अपना घर चलाने को मजबूर है? विगत 10 वर्षों में बिहार की पलायन दर में अप्रत्याशित वृद्धि क्यों हुई? 

3. नीति आयोग के सभी सूचकांकों पर बिहार साल दर साल क्यों पिछड़ता जा रहा है? नीति आयोग की रिपोर्ट के अनुसार शिक्षा, स्वास्थ्य एवं सतत विकास सूचकांक में बिहार अंतिम पायदान पर क्यों और कैसे पहुंचा? 16 वर्षों के मुख्यमंत्री बताएं कि इसका दोषी कौन है?

4. केंद्र सरकार के सभी मानक संस्थाओं जैसे एनसीआरबी, एनएचआरएम, एनएचएम, एनएसएसओ एवं नीति आयोग के अनुसार बिहार में शिक्षा, स्वास्थ्य, नौकरी और कानून व्यवस्था की स्थिति सबसे बदतर क्यों है?

5. सीएजी की सालाना रिपोर्ट में 2 लाख करोड़ से अधिक का हिसाब-किताब गायब क्यों है? क्या भारी वित्तीय अनियमितता और सृजन जैसे बड़े घोटालों के कारण ही आपकी सरकार ने विगत 7-8 वर्षों के उपयोगिता प्रमाण पत्र जमा नहीं किए है?

6. मुख्यमंत्री, बताएं कि विगत 16 वर्षों से कुर्सी से चिपके रहने के लिए उन्होंने नीति, नियति, नियम, विचार और सिद्धांत की तिलांजलि देकर बारंबार बिहार की प्रत्येक पार्टी से गठबंधन क्यों किया? वो बताए कि बिहार की कौन सी ऐसी पार्टी बची है जिससे उन्होंने समझौता नहीं किया?

7. मुख्यमंत्री जवाब दें कि सतत विकास लक्ष्यों की भारत सूचकांक रिपोर्ट 2020-21 के अनुसार बिहार का समग्र स्कोर सभी राज्यों में सबसे कम क्यों है? इस रिपोर्ट के मुताबिक बिहार देश का सबसे पिछड़ा राज्‍य है। डबल इंजन वाली सरकार के बावजूद बिहार सभी मानकों में आखिर पिछड़ क्‍यों रहा है? इसका जिम्मेवार कौन है?

8. मुख्यमंत्री नीतीश जी बताएं कि बिहार में ऐसी कौन सी परीक्षा है, जिसका प्रश्न पत्र लीक नहीं होता है? कौन सी ऐसी भर्ती और बहाली है जिसका ससमय पारदर्शी प्रक्रिया के साथ परिणाम घोषित हुआ हो?

9. मुख्यमंत्री जी बताएं कि एनडीए सरकार कुल बजट का केवल 2% ही दलितों पर क्यों खर्च करती है? एनसीआरबी रिपोर्ट के अनुसार बिहार में दलितों पर सबसे अधिक अपराध क्यों होते है? आपने दलित और आदिवासी वर्ग के छात्रों की छात्रवृति बंद क्यों की?

10. नीतीश कुमार बताएं कि 16 वर्षों में उनकी रहनुमाई में बिहार में 30 हजार करोड़ के 76 घोटाले क्यों हुए? बिहार सरकार ने स्वयं माना है कि इतने घोटाले हुए है, खानापूर्ति के लिए जांच की नौटंकी भी हुई लेकिन कभी भी कोई नेता और शीर्ष अधिकारी क्यों नहीं पकड़ा गया?

11. मुख्यमंत्री बताएं कि नल जल योजना पर लगातार शोर मचाने वाली बिहार की डबल इंजन सरकार कुल बजट का केवल 4% ही जल आपूर्ति व सैनिटेशन पर क्यों खर्च करती है? और उस 4% का भी 75 फीसदी हिस्सा भ्रष्टाचार की भेंट क्यों चढ़ जाता है?

12. मुख्यमंत्री बताएं कि सात निश्चय योजना भ्रष्टाचार का केंद्र बिंदु क्यों है? आपके राज में थाना और ब्लॉक में बिना घुस दिए कोई काम क्यों नहीं होता?

13. मुख्यमंत्री जी बताए कि बिहार में शराबबंदी प्रभावी क्यों नहीं हो पा रही है? घर घर शराब की होम डिलीवरी हो रही है, लोग जहरीली शराब पीकर आए दिन मर रहे हैं, 20 हजार करोड़ की समानांतर अवैध अर्थव्यवस्था चल रही है, राजस्व का नुकसान हो रहा है। ऐसे में सरकार के भ्रष्टाचार, निकम्मेपन और नाकामी की नजीर बन चुकी ऐसी निरर्थक शराबबंदी का अर्थ मुख्यमंत्री बिहारवासियों को क्यों नहीं समझाते?

पीएम मोदी

14. मुख्यमंत्री बताएं कि एनडीए सरकार की नाकामी से 16 वर्षों में पूर्व से चालू कितनी चीनी मिल, जूट मिल, पेपर मिल एवं दूसरे उद्योग और कारखाने बंद हुए और उससे बिहार को कुल कितने राजस्व व रोजगार के अवसरों की हानि हुई? नीतीश जी, साथ ही ये भी बतायें कि इन्होंने 16 वर्षों में बिहार में कुल कितने नए उद्योग-धंधे, आईटी पार्क, खाद्य प्रसंस्करण उद्योग, कल-कारखाने और इंडस्ट्री स्पेसिफिक क्लस्टर  स्थापित करवाए?

15. मुख्यमंत्री बताएं कि 16 वर्षों में बिहार राज्य का कुल कितने लाख करोड़ रुपया निवेश, शिक्षा और चिकित्सा के नाम पर दूसरे प्रदेशों में गया?  बिहार के मानव संसाधन का कुल कितने प्रतिशत बिहार में और दूसरे प्रदेशों में कार्यरत है और क्यों?

16. 16 वर्षों के मुख्यमंत्री बताएं कि आपने 16 वर्षों में बिहार में कुल कितनी नौकरियां प्रदान की?‬‬‬ 16 वर्षों में हुई कुल नियुक्तियों का जिलावार और वर्गवार आंकड़ा प्रस्तुत करें?

17. भूतकाल के बासी पन्नों में अपना वर्तमान और भविष्य खोजने तथा अपनी सत्तालोलुपता के चलते बिहार की दो पीढ़ियों का वर्तमान और भविष्य बर्बाद करने वाले मुख्यमंत्री जी बताएं कि क्या उन्होंने फुर्सत में कभी 1990 से 2005 (एकीकृत बिहार के 54 जिलों) एवं 2005 से 2021 तक के अपराध, हत्या, बलात्कार के आकड़ों का ईमानदारी से अध्ययन किया है? क्या उन्होंने कभी एनसीआरबी की रिपोर्ट स्वयं पढ़ी है?

18. मुख्यमंत्री, बिंदुवार सार्वजनिक स्पष्टीकरण दें कि 2010 में भाजपा के साथ पूर्ण बहुमत में आने के बाद उन्होंने जनादेश के साथ विश्वासघात करते हुए 2013 में भाजपा को क्यों छोड़ा? 2015 में राजद गठबंधन के साथ पूर्ण बहुमत आने के बाद 2017 में जनादेश का अपमान क्यों किया? क्या आपने व्यक्तिगत सत्ता तृष्णा के कारण हमेशा बिहार, 12 करोड़ बिहारवासियों और उनके भरोसे, भावनाएं एवं मत के साथ छल नहीं किया?

19. क्या बिहार के लिए विशेष राज्य का दर्जा आपके लिए केवल और केवल राजनीतिक रोटी सेंकने एवं महज बयानबाजी का मुद्दा नहीं है?

20. क्या 40 में से 39 लोकसभा सांसद होने के बावजूद ड़बल इंजन सरकार में बिहार के साथ शिक्षा, स्वास्थ्य एवं अन्य विकास कार्यों में नाइंसाफी नहीं हो रही?

21. मुख्यमंत्री जी आजकल 24,500 करोड़ की जल जीवन हरियाली योजना का जिक्र क्यों नहीं करते? क्या वह योजना चुनाव तक ही जदयू-भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए बस धन उगाही योजना थी?