Movie prime
राम नरेश चौरसिया पर हमले को पत्रकारों ने बताया निंदनीय, कड़ी कार्रवाई की मांग की
 

बिहार के वरिष्ठ पत्रकार राम नरेश चौरसिया पर कुछ लोगों ने पटना सिटी में दिनदहाड़े हमला कर दिया। इस घटना में उन्हें सिर पर चोट आई है। वहीं अब राज्य के अन्य पत्रकारों में इस घटना को लेकर काफी आक्रोश है। उन्होंने इस तरह की घटना को निंदनीय बताते हुए प्रशासन से कड़ी कार्रवाई की मांग की। 

दरअसल, पटना सिटी में पत्रकार राम नरेश आज रुपये निकालने बैंक गए हुए थे। बैंक के दफ्तर की सीढ़ी चढ़ते हुए पास में रखी डस्टबीन में थूंक फेंकने को लेकर पास की दुकान के तीन स्टाफ से उनकी बकझक हुई। राम नरेश के अनुसार, दुकान के तीन स्टाफ ने उनके साथ बदजुबानी की। रंजीत कुमार समेत दो अन्य ने पत्रकार के साथ गाली-गलौज की। हालांकि, राम नरेश ने अपनी गलती मान कर मांफी मांगी फिर भी उनके ऊपर हमला किया गया। इस हमले में उनका ललाट फट गया। 

इस मामले को लेकर वरिष्ठ क्राइम संवाददाता एस.एन श्याम ने कहा कि वरिष्ठ पत्रकारों पर इस तरह का हमला निश्चित रूप से निंदनीय है। उन्होंने कहा, " इस संबंध में मैंने चौक के थाना प्रभारी गौरी शंकर गुप्ता से मोबाइल पर बात किया है। उनके द्वारा बताया गया कि वह फोर्स को भेजे हैं। हमने उनसे आग्रह किया कि वह स्वयं इस मामले को देखें और गंभीरता पूर्वक विधि सम्मत कार्रवाई किया जाए ।"  एक आग्रह एसपी महोदय से भी है कि वह स्वयं इस मामले में संज्ञान ले। 

वहीं अन्य पत्रकारों ने कहा कि राम नरेश चौरसिया काफी शांत स्वभाव के व्यक्ति हैं। ऐसे व्यक्ति के साथ जानलेवा मारपीट की घटना सही नहीं है। इस घटना पर पुलिस द्वारा कड़ी कार्रवाई की जाए। यहां आपको बता दें कि आरोपी रंजीत कुमार को फिलहाल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं आगे की कार्रवाई जारी है। मालूम हो कि राजधानी में पत्रकारों पर हमले की यह कोई पहली घटना नहीं है इससे पहले भी कई घटनाएं हो चुकी है। राजधानी में पिछले तीन महीने में ही आधा दर्जन से ज्यादा पत्रकार अपराधिक घटना के शिकार हुए हैं। 

शराबबंदी को लेकर 16 नवंबर को होगी समीक्षा बैठक: नीतीश कुमार- https://newshaat.com/bihar-local-news/review-meeting-will-be-held-on-november-16-regarding/cid5718361.htm