Movie prime
Lakhimpur Violence: घटनास्थल पर होने से केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे ने किया इनकार
 

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा मामले में मंगलवार को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री और भाजपा नेता अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा ने सवालों के घेरे में हैं। अपने ऊपर लग रहे सवालों से इनकार करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर भूरा भरोसा है।  दोषियों के खिलाफ कार्रवाई हो। जांच में दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। बता दें, बीते रविवार को हुई घटना के आरोप में आशीष मिश्रा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। 

आशीष मिश्रा ने कहा कि हमारे यहां 35 सालों से दंगल का आयोजन होता आया है। जनपद के लोग वहां जाते हैं। 3 को दंगल का आयोजन था।  उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को बुलाया गया था। उन्हें लाने के लिए कुछ कार्यकर्ता गए थे। एक गाड़ी हमारी थी महिंद्रा थार और दो अन्य गाड़ी थी (एक फॉर्च्यूनर और एक छोटी गाड़ी थी)। इसी दौरान जब उपमुख्यमंत्री को लेने जा रहे थे तब कुछ अराजक तत्वों ने लाठी डंडों से हमारी गाड़ी को निशाना बनाया, शीशे को तोड़ दिया। वहीं उन्होंने घटना स्थल पर होने की बात सी इनकार करते हुए कहा, " मैं सुबह 9 बजे से ही दंगल स्थल पर था, वहीं कार्यक्रम की तैयारी में लगा हुआ था।  " 

बता दें, लखीमपुर खीरी घटना का एक वीडियो सोमवार से वायरल हो रहा है जिसमें एक लग्जरी गाड़ी किसानों को रौंदती हुई जा रही है। इसको लेकर काफी तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। विपक्ष सरकार पर हमलावर है। प्रियंका गांधी को गिरफ्तार किया गया है। वहीं अखिलेश यादव समेत कई नेता नजरबंद हैं। 

AN कॉलेज के पुस्तकालय सभागार में भावना शेखर की किताब ' एक सपना लापता' का लोकार्पण हुआ- https://newshaat.com/bihar-local-news/bhawna-shekhars-book-ek-sapna-lapata-was-launched-in-the/cid5411115.htm