Movie prime
पूर्व मंत्री भोला राम का नाम लेकर बुरा फंस गए लालू, ललन सिंह ने कहा- दलित उत्थान का दिखावा करते हैं
 

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के द्वारा पूर्व मंत्री भोला राम तूफानी के बारे में दिए गए बयान को लेकर बवाल मच रहा है। जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने लालू यादव पर निशाना साधा है। जदयू अध्यक्ष ने कहा कि महादलित समाज से आने वाले भोला राम तूफानी को हेलीकॉप्टर में चढ़ाने के बहाने फर्जी कागजों पर हस्ताक्षर करवा लिया। जदयू नेता ने कहा कि लालू यादव सिर्फ दलितों का ठगने का काम करते आए हैं। 

ललन सिंह ने कहा कि दिवंगत नेता भोला राम तूफानी बेहद सज्जन व्यक्ति थे। एक ईमानदार मंत्री को लालू प्रसाद ने चारा घोटाला के मामले में फंसा दिया। कहा, ''तूफानी को हेलीकप्टर पर घुमाने की कहानी तो लालू प्रसाद ने बता दी, लेकिन यह नहीं बताया कि कैसे उन्होंने हेलीकॉप्टर पर घुमाने के बाद तूफानी से चारा घोटाले की फाइल पर हस्ताक्षर करवा लिया था। लालू प्रसाद ने यह नहीं बताया कि कैसे घोटालों की फाइल भोलाराम तूफानी के सामने आती गई और लालू प्रसाद अपनी मर्जी के मुताबिक उनसे साइन करवाते रहे। "

बता दें, लालू प्रसाद यादव कल यानी कि मंगलवार को राजद के दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए थे। इस दौरान लालू यादव ने एक संस्मरण सुनाते हुए बताया था कि कैसे उन्होंने पूर्व मंत्री भोलाराम तूफानी को हेलीकॉटर से पहली बार गांव भेजा था। जब तूफानी हेलीकॉप्टर पर पहली बार सवार हुए थे, तब गांव के लोग क्या कहते थे। लालू के इसी बयान के बाद जदयू नेता ने निशाना साधा है। 

ललन सिंह ने कहा कि लालू यादव ने राजनीति में भ्रष्टाचार का जो खेल खेला है, उसके बाद अब वह उसी तरह की ट्रेनिंग अपने बेटे तेजस्वी यादव को दे रहे हैं। ललन सिंह ने कहा कि प्रवासी नेता को लालू यादव इस बात की ट्रेनिंग दे रहे हैं कि आखिर कैसे लोगों को बेवकूफ बनाया जाता है। लालू यादव ने दलित उत्थान का दिखावा कर के दलितों को घोटाले के मामले में फंसाने का काम किया है। 

लखीमपुर हिंसा: मृतकों के परिवारों को 50-50 लाख रुपये का मुआवजा देगी पंजाब और छत्तीसगढ़ सरकार- https://newshaat.com/national-news/punjab-chhattisgarh-gov-will-give-compensation-50-lakh-each/cid5416351.htm