Movie prime
अब से बाहर निकलने पर मास्क है जरूरी!.... मास्क नहीं पहना तो देना होगा फाइन
 

भारत में कोरोना तेजी से बढ़ रहा है। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 90,928 केस सामने आए हैं। कोरोना की इस तीसरी लहर में सबसे ज्यादा डॉक्टर प्रभावित हो रहे हैं। वहीं बात करें बिहार की तो बिहार में भी कोरोना तेजी से फैल रहा है। तीसरी लहर को लेकर राज्य में नई बंदिशें लागू की गई है। आज से राजधानी पटना में सख्ती भी देखने को मिलेगी। रात 10:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक नाईट कर्फ्यू प्रभावी रहेगा। इतना ही नहीं बाजार रात 8:00 बजे के बाद बंद हो जाएंगे। इसके अलावा सरकार के आदेश के मुताबिक कई तरह के अन्य प्रतिबंध भी लगाए गए हैं।

पटना में अगर आप मास्क के बगैर घर से बाहर निकले तो आपको फाइन देना पड़ेगा। इतना ही नहीं अगर किसी गाड़ी में मास्क के बगैर लोग सफर करते पाए गए, तो उस गाड़ी को भी जप्त किया जा सकता है। पटना के डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह ने स्पष्ट कर दिया है कि कोरोना नियंत्रण के लिए किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सावर्जनिक स्थल पर बगैर मास्क के अगर कोई व्यक्ति पाया गया तो उसे फाइन देना पड़ेगा। राजधानी पटना में आज धावा दलों की संख्या भी बढ़ा दी गई है। इतना ही नहीं गाड़ियों की चेकिंग भी बढ़ाई जाएगी। इस दौरान ना केवल गाड़ियों का डॉक्यूमेंट चेक किया जाएगा, बल्कि उस पर सफर करने वाले लोग मास्क पहने है या नहीं, यह भी देखा जाएगा। दोनों ही परिस्थिति में उन्हें फाइन किया जा सकता है।

पीएम

इधर रेलवे ने भी स्टेशन और रेल परिसर पर बगैर मास्क देखे जाने पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। पटना जंक्शन आरपीएफ निरीक्षक के मुताबिक अधिकारी और जवानों को निर्देश दिया गया है कि वह रेल परिसर के हर इलाके में निगरानी रखें और बगैर मास्क घूमने वाले लोगों के ऊपर एक्शन लें। फिलहाल पब्लिक ट्रांसपोर्ट को 100 फीसदी क्षमता के साथ चलाने की इजाजत दी गई है। लेकिन बस और ऑटो चालकों और कंडक्टर को मास्क पहनना जरूरी होगा। यात्रियों के लिए मास्क पहले ही जरूरी है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो गाड़ी जप्त कर ली जाएंगी। ऐसे किसी भी मंडी या बाजार जहां कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं होगा उसे अस्थाई तौर पर प्रशासन बंद कर देगा। जिले के डीएम और मजिस्ट्रेट इसकी खुद निगरानी करेंगे। 

बता दें कि राजधानी पटना कोरोना का सबसे बड़ा हॉट स्पॉट बन गया है। बिहार के हर जिले से डराने वाले आंकड़े सामने आ रहे हैं। कोरोना की यह तीसरी लहर बड़ी तेजी से फैल रहा है। वहीं दूसरी तरफ ठंड के कारण सभी अस्पतालों में सर्दी- बुखार से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ रही है। गुरुवार दोपहर 12 बजे तक 1599 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इसमें से 396 लोग पटना से बाहर के हैं। 1203 लोग राजधानी के हैं, जिसमें 17 साल से कम उम्र के 18 बच्चे भी शामिल हैं। यह डराने वाले आंकड़े सिर्फ 4 घंटे के हैं। 

बिहार के दो और मंत्री कोरोना पॉजिटिव- https://newshaat.com/bihar-local-news/two-more-bihar-ministers-are-corona-positive-cm-and-shahnaw/cid6180535.htm