Movie prime
बिहार में ओमिक्रोन ने दी दस्तक, पटना में मिला पहला मरीज
 

बिहार में कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन गुरुवार को दस्तक दे चुका है। अब इसकी पुष्टि हो चुकी है। जिस व्यक्ति को ओमिक्रोन हुआ है वह पटना के किद्वैपुरी स्थित आईएएस कॉलोनी का रहने वाला है। मिली जानकारी के अनुसार, यह व्यक्ति दिल्ली में अपने भाई से मुलाकात कर लौटा था। इस व्यक्ति का भाई इंग्लैंड से दिल्ली आया था। वह भी संक्रमित है। दिल्ली में क्वॉरेंटाइन के दौरान अपने भाई से मुलाकात करने के बाद 26 साल का युवक पटना वापस आया। बाद में उसका सैंपल जिनोम सीक्वेंसिंग के लिए दिल्ली स्थित एलसीडीसी लैब में भेजा गया था और गुरुवार को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। 

राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक ने इसकी पुष्टि की कि युवक के 21 दिसंबर को संक्रमित हुआ था। उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद किद्वैपुरी और आईएएस कॉलोनी के साथ-साथ युवक के संपर्क में आने वाले लोगों की ट्रेसिंग शुरू हो गई है। इस इलाके को बेहद संवेदनशील माना जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम उन लोगों की पहचान करने में जुट गई है, जो युवक के संपर्क में आए थे। स्वास्थ्य विभाग ने इलाके के लोगों को एक दूसरे के संपर्क में आने से मना किया है। 26 साल का यह युवक फिलहाल किदवईपुरी स्थित आईएस कॉलोनी के अपने घर में आइसोलेशन में है। राज्य स्वास्थ्य समिति ने बाद में इसकी पुष्टि की है।

वहीं दूसरी तरफ बिहार में एक बार कोरोना के नए मरीजों के मिलने का सिलसिला बढ़ गया है। गुरुवार को पटना में 60 नए मरीजों की पहचान हुई है। पटना के पीएमसीएच में एक डॉक्टर भी संक्रमित पाए गए हैं। जबकि आईजीआईसी में भी एक डॉक्टर पॉजिटिव पाए गए हैं। एक रिटायर्ड डीएसपी और उनकी पत्नी भी संक्रमित पाई गई हैं। पीएमसीएच में गुरुवार को 10 सैंपल की जांच की गई और यह सभी पॉजिटिव पाए गए। इनमें से 8 मरीज पटना के हैं। 

पीएम

इधर, नए साल को लेकर लोग उत्साहित हैं। हालांकि, नए कोरोना वेरिएंट के खतरे को लेकर बिहार सरकार ने नए साल के जश्न पर पाबंदी लगाई है। पटना के सभी पार्क और जू को आज से बंद कर दिया गया है। यह बंद अगले दो जनवरी तक लागू रहेगा। यही नहीं गांधी मैदान और गोलघर को भी पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया है। लेकिन यह पाबंदी कुछ चुनिंदा वर्ग तक ही सीमित है। हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं कि नए साल के जश्न के लिए बड़े होटलों को मंजूरी दी गई है। एक तरफ जहां कोरोना के खतरे को टालने के लिए आम लोगों पर पाबंदी लगाई गई वहीं दूसरी तरफ खास लोगों को बड़े होटलों में जश्न की मंजूरी देकर सरकार ने अपने ही फैसले पर सवाल उठाने को विवश कर दिया है। बता दें कि नए साल का जश्न पटना के तमाम बड़े होटलों में मनाए जाएंगे। 

बता दें कि पटना के सभी बड़े होटलों में नए साल का जश्न मनेगा। हालांकि, इसके लिए कोरोना गाइडलाइन का पालन करने का निर्देश दिया गया है। वैक्सीन की डबल डोज लेने वाले को ही इन आयोजनों में एंट्री मिल पाएगी। प्रशासन ने यह भी कहा है कि कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने वाले आयोजकों पर कार्रवाई की जाएगी। सभी एसडीओ, एसडीपीओ और थाना अध्यक्षों को होटल रेस्टोरेंट पर नजर रखने का निर्देश दिया गया है। 

पटना में खेतिहर मजदूर संगठनों का राज्यस्तरीय कन्वेंशन- https://newshaat.com/bihar-local-news/joint-state-level-convention-of-agricultural-labor-organiza/cid6142754.htm