Movie prime
MU के कुलपति के घर छापेमारी में करोड़ों की संपत्ति जब्त
 

बिहार विशेष निगरानी ( एसयूवी) की टीम ने मगध विश्वविद्यालय (एमयू) के कुलपति राजेंद्र प्रसाद के विभिन्न ठिकानों पर बुधवार को छापेमारी की। यह छापेमारी करीब 15 घंटों तक चली। विशेष निगरानी इकाई की अदालत से आदेश प्राप्त कर टीम ने राजेंद्र प्रसाद के उत्तर प्रदेश स्थित गोरखपुर जिला के आवास के साथ-साथ गया स्थित सरकारी आवास और बोधग्या के कार्यालय में भी तलाशी ली। गोरखपुर जिला के रामगढ़ ताल स्थित राजेंद्र प्रसाद के घर की तलाशी के दौरान 70 लाख रुपये नकद, लगभग 15 लाख रुपये मूल्य के गहने और लगभग 5 लाख रुपये मूल्य की विदेशी मुद्रा के अलावा कुछ अन्य कीमती सामान एवं दस्तावेज बरामद हुए हैं। कुलपति प्रो. राजेन्द्र प्रसाद पर विश्वविद्यालय में खरीददारी करने के नाम पर तीस करोड़ रुपये के गोलमाल के आरोप में मामला दर्ज किया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार कुलपति के आवास से 70 लाख रुपये बरामद किए गए, जिसकी गिनती के लिए बाहर से मशीनें मंगवानी पड़ी। हालांकि, जैसे-जैसे आलमारियां खुलती गईं रकम करीब 2 करोड़ तक जा पहुंची। एक आलमारी खुली तो जेवरों के ढेर लग गए। साथ ही पांच लाख की विदेशी मुद्रा के साथ 15 लाख रुपये के जेवरात भी बरामद किए गए। इसके अलावा एक करोड़ की जमीन के कुछ कागजात भी मिले। साथ ही कई बैंक अकाउंट, लॉकर का भी पता चला है।

जांच में यह भी सामने आया है कि एमयू के लिए कागजों में 86 गार्ड तैनात किए गए थे, जबकि वहां पर केवल 47 ही कार्यरत मिले। मालूम हो कि राजेन्द्र प्रसाद के खिलाफ 420, 120ई के साथ-साथ भ्रष्टाचार अधिनियम में मुकदमा दर्ज किया गया है। उसी कड़ी में जांच की जा रही है। कुलपति राजेन्द्र प्रसाद पर आरोप है कि मगध विश्वविद्यालय और वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के कुलपति रहने के दौरान इन्होने जमकर मनमानी की थी। बगैर जरूरत के निविदा प्रक्रिया में चहेते आपूर्तिकर्ताओं से खरीददारी की थी।

RJD के पूर्व विधायक को पंचायत चुनाव में मिली हार- https://newshaat.com/bihar-local-news/bihar-former-rjd-mla-who-defeated-pashupati-paras-lost-in-p/cid5779967.htm