Movie prime
भारत बंद के समर्थन में सड़कों पर दिखी RJD, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी रहे अनुपस्थित
हमारे नेता जहां भी रहते हों.उनका नेतृत्व हमें प्राप्त रहता है. राजद का कोई भी आंदोलन तेजस्वी यादव के बिना नहीं होता है.
 

खून से निकला इतिहास सियाही से नहीं मिटने देंगे बेच दिया तुमने रेल और जहाज पर खेत नहीं मिटने देंगे, पर देश नहीं मिटने देंगे। यह बोल हमारे नहीं हैं बल्कि यह बोल हैं राजद के कार्यकर्ता की। किसानों के
भारत बंद को बिहार में राजद का समर्थन मिला है। इस सिलसिले में राजद नेता सड़कों पर उतर आए हैं। इनमें पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, अब्दूल बारी सिद्दिकी सहित श्याम रजक और अन्य नेता भी नजर आए। हालांकि, इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव इस आंदोलन में नहीं दिखे। 

भारत बंद को लेकर राजद के आंदोलन से तेजस्वी के गायब रहने पर राजद नेता आलोक महता ने कहा कि वहीं अब्दूल बारी सिद्दिकी ने तेजस्वी का बचाव करने की कोशिश करते हुए बताया कि वह भी कहीं पर प्रदर्शन कर रहे होंगे। वहीं अब्दूल बारी सिद्दिकी मोदी सरकार पर जम कर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि दस माह से किसान अपनी मांगों को लेकर सड़क पर बैठे हुए हैं। ठंडी, गर्मी, बरसात बर्दाश्त कर रहे हैं, लेकिन अमीरों की यह सरकार उनकी मांग को मानना तो दूर की बात है, उनका हाल लेना भी जरुरी नहीं समझती है। 

बता दें, सरकार के तीनों कृषि कानूनों के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) के नेतृत्व में 40 किसान संगठनों ने आज भारत बंद का आह्वान किया है। बिहार में इसे विपक्षी महागठबंधन सहित कई अन्‍य राजनीतिक दलों का समर्थन मिला है। विपक्षी दलों ने इस भारत बंद को और भी कई मुद्दों से जोड़ा है जिनमें बेरोजगारी, योजनाओं में घोटाले और जातीय जनगणना शामिल हैं। बंद को समर्थन देने तथा इसे सफल बनाने के लिए आज सुबह से ही राजद, कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों के कार्यकर्ता सड़क पर उतर गए हैं। 

किसान के 'भारत बंद' को बिहार में मिला महागठबंधन का साथ- https://newshaat.com/bihar-local-news/farmers-bharat-bandh-got-support-of-mahagathbandhan-in/cid5339500.htm