Movie prime
तेजस्वी की यात्रा को मामा साधु यादव ने बताया नौटंकी, समाज सुधार अभियान को बताया सही
 

बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव राज्य की बेरोजगारी को लेकर लगातार सरकार से सवाल करते रहते हैं। नए साल पर एक जनवरी को तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री से कहा था कि वह अपने पुराने वादें याद करें और बिहारवासियों को रोजगार दें। वहीं तेजस्वी यादव ने यह भी ऐलान किया था कि वह खरमास बाद बेरोजगारी हटाओ यात्रा पर निकलने वाले हैं। वहीं अब तेजस्वी की इस यात्रा को लेकर उनके मामा साधु यादव ने उन पर एक बार फिर हमला बोला है। साधु यादव ने तेजस्वी के बेरोजगारी यात्रा को ड्रामा करार दिया है। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की समाज सुधार अभियान की जमकर सराहना की। 

पूर्व सांसद साधु यादव ने सीएम नीतीश के संबंध में कहा कि उन्हें बिहार के लिए जितना काम करना चाहिए था वे कर रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे। वहीं अपने भांजे तेजस्वी यादव के बारे में कहा कि बिहार की जनता सब जानती है। तेजस्वी को पहचान चुकी है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी की बेरोजगारी यात्रा एक ड्रामा है। मालूम हो कि 22 दिसंबर से मुख्यमंत्री ने समाज सुधार अभियान की शुरुआत की थी। मुख्यमंत्री के इस अभियान का उद्देश्य है कि शराब के खिलाफ जागरुकता पैदा की जाए। साथ ही दहेज और बाल विवाह जैसी कुरीतियों को दूर किया जाए। वहीं मुख्यमंत्री के इस अभियान के जवाब में तेजस्वी यादव ने भी बेरोजगारी हटाओ यात्रा निकालने का ऐलान किया था। 

पीएम

बता दें कि तेजस्वी यादव जिस रथ से अपनी यात्रा पर निकलेंगे वह रथ आज राबड़ी आवास लाया गया है। युवा क्रांति रथ इसे नाम दिया गया है जिस पर सवार होकर तेजस्वी यादव खरमास के बाद अपनी इस यात्रा पर निकलेंगे। खबरों की मानें तो इस रथ को लेकर खूब बवाल मचा था। जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने तेजस्वी यादव के इस रथ को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई आरोप लगाए थे। नीरज कुमार ने कहा था कि रथ का पेपर किसी और व्यक्ति के नाम पर है जो बेहद गरीब आदमी है। इस रथ को लेकर खूब बयानबाजी भी हुई थी। 

अब बिहार में भी आम लोग चुनेंगे मेयर और डिप्टी मेयर-https://newshaat.com/bihar-local-news/changes-in-the-system-now-common-people-will-choose-mayor-a/cid6168874.htm