Movie prime
CM हाउस में नौकरी दिलाने के नाम पर करता था ठगी, पुलिस ने पकड़ा तो खुला पोल, हत्या के भी आरोप
 

नौकरी के नाम पर ठगी का मामला तो आये दिन सामने आता रहता है। लेकिन अब पटना में ऐसा मामला सामने आया है जिसके बारे में जानकर आप हैरत में पड़ जाएंगे। सीएम हाउस में वीडियोग्राफर की नौकरी दिलवाने के नाम पर ठगी का मामला सामने आया है। इस ठगी के पीछे के मास्टर माइंड अनिल कुमार सिंह को पाटलिपुत्र थाने की पुलिस ने नेहरूनगर इलाके से धर दबोचा है। वह नेहरूनगर के आरडी टावर के ए-15 में रहता है। गुरुवार को साईं मंदिर के समीप ठगी शिकाय युवक ने ही उसे पकड़ा। 

युवक के पास से जालसाजी करने के बहुत से सामान बरामद किए गए हैं। आरोपित के पास से सीएम हाउस, डीजीपी, आईजीआईएमएस की दो-दो मुहर मिली है। इसके अलावा दरभंगा के एसएसपी बाबू राम के नाम का एक मुहर लगा कागज भी मिला। डिप्टी सीएम के नाम का विधानसभा सदस्य 227 दमालगंज, गया लिखा एक लेटर पैड भी बरामद किया गया है। 

पीएम

पाटलिपुत्र थानेदार एसके शाही ने बताया कि युवक पर पहले से भी एक मामला दर्ज है। अनिल पर लखनऊ में एक लड़की को छत से फेंककर हत्या करने की एफआईआर भी दर्ज है। अनिल द्वारा ठगे गए मूल रूप से मनेर के रहने वाले विवेक कुमार ने बताया कि एक साल पहले उसकी मुलाकात अनिल से हुई थी। उसने सीएम हाउस में नौकरी दिलवाने के नाम पर उससे एक लाख रुपये और एक लैपटॉप ले लिया। नौकरी नहीं मिलने पड़ विवेक को शक हुआ और उसने अपने पैसे की मांग करनी शुरू की तो अनिल ने अपना मोबाइल ही बंद कर लिया। 

मांझी के शराबबंदी वाले बयान पर रोहिणी आचार्य का समर्थन- https://newshaat.com/bihar-local-news/rohini-acharya-support-on-manjhi-statement-on-prohibitio/cid6042179.htm