Movie prime
भारी पड़ गई पैगंबर पर टिप्पणी, भाजपा ने प्रवक्ता नूपुर शर्मा को किया सस्पेंड
 

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की प्रवक्ता नूपुर शर्मा को पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी करना भारी पड़ गया है। इतना ही नहीं भाजपा पार्टी ने प्रवक्ता नूपुर शर्मा को आज यानि रविवार को पार्टी से निलंबित कर दिया है। साथ ही साथ नवीन कुमार जिंदल पर भी इसी मामले में एक्शन लिया गया है। बीजेपी मीडिया प्रभारी नवीन जिंदल को भी सस्पेंड कर दिया गया है। 

दरअसल नूपुर शर्मा ने हाल ही में पैगंबर मोहम्मद साहब पर एक विवादित टिपण्णी की, जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ रहा है। उन्होंने एक टीवी चैनल के डिबेट शो में विवादित बयान दिया जिसके बाद मुस्लिम समुदाय के लोग भड़क उठे। बहस के दौरान उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ लोग हिंदू आस्था का लगातार मजाक उड़ा रहे हैं। अगर यही है तो वह भी दूसरे धर्मों का मजाक उड़ा सकती हैं। नूपुर ने इसके आगे इस्लामी मान्यताओं का जिक्र किया। आरोप है कि उन्होंने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ अभद्र टिप्प्णी की। नूपुर शर्मा के विवादित बयान पर लगातार हो रहे विरोध के बाद भाजपा ने कड़ी कार्रवाई की है। 
 
भाजपा ने कहा कि हम सभी धर्मों और उनके पूज्यों का सम्मान करते हैं। निलंबन पत्र में कहा गया, " भारत के हजारों वर्षों के इतिहास में प्रत्येक धर्म फला-फूला है. भारतीय जनता पार्टी सभी धर्मों का सम्मान करती है. भाजपा किसी भी धर्म के किसी भी धार्मिक व्यक्ति के अपमान की कड़ी निंदा करती है. पार्टी किसी भी विचारधारा के सख्त खिलाफ है, जो किसी भी संप्रदाय या धर्म का अपमान करती है. बीजेपी ऐसे किसी विचारधारा का प्रचार नहीं करती।" भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने एक ऑफिसियल लेटर जारी कर कहा कि भाजपा सभी धर्मों का सम्मान करने वाली पार्टी है। भाजपा का यह बयान तब आया है जब नूपुर शर्मा के बयान के बाद कानपुर में हिंसा भड़की और पथराव का माहौल बन गया। 

बात करें नवीन जिंदल की तो नवीन जिंदल ने नूपुर शर्मा के विवादित बयान का समर्थन करते हुए ट्वीट किया था। हालाँकि उन्होंने आज एक ट्वीट किया है जिसमे लिखा है -हम सभी धर्मों की आस्था का सम्मान करते हैं लेकिन सवाल सिर्फ़ उन मानसिकता वालों से था जो कि हमारे देवी-देवताओं पर अभद्र टिप्पणियों का प्रयोग करके नफ़रत फैलाते हैं। मैंने सिर्फ़ उन्हीं से एक सवाल पूछ था। इसका अर्थ ये नहीं कि हम किसी भी धर्म के खिलाफ है।

रिपोर्ट: सृष्टि सिंह