Movie prime
बॉलीवुड स्टार्स पर भड़के प्रकाश झा, बोले- ये पान-गुटखा बेचते हैं और जब फुरसत मिलती है तो उठाकर रीमेक बना देते हैं
 

डायरेक्टर और एक्टर प्रकाश झा अपनी बेबाकी के लिए पूरी इंडस्ट्री में मशहूर हैं. पिछले दिनों उन्होनें बॉलीवुड एक्टर आमिर खान की फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा' के जरिए बॉलीवुड वालों पर अपना गुस्सा निकाला था. उन्होंने कहा था- बॉलीवुड एक्टर्स बकवास फिल्में बना रहे हैं. अगर कहानी नहीं है तो फिल्में बनाना बंद कर दें. बॉलीवुड की फिल्में फ्लॉप हो रही हैं. काफी समय के बाद ब्रह्मास्त्र सिनेमाघरों में टिकी हुई है. फ्लॉप के डर से मेकर्स सिनेमाघरों में फिल्में रिलीज करने से भी डर रहे हैं. फ्लॉप हो रही फिल्मों को लेकर अक्सर कोई न कोई फिल्मी सितारा और फिल्ममेकर टिप्पणी करते नजर आते हैं. डायरेक्टर प्रकाश झा भी पिछले दिनों बॉलीवुड पर गुस्सा करते नजर आए थे. प्रकाश झा ने लाल सिंह चड्ढा के बहाने कहा था कि अगर कहानी नहीं है तो लोग फिल्में बनाना बंद कर दें.

प्रकाश झा

हाल ही में एक बार फिर प्रकाश झा बॉलीवुड पर जमकर गुस्सा करते नजर आए हैं. प्रकाश झा ने एक इंटरव्यू के दौरान फ्लॉप हो रही फिल्मों और सितारों पर सवाल भी उठाया है. उन्होंने कहा है कि फिल्म स्टार्स अब पान-गुटखा बेचते हैं और जब फुरसत मिलती है तो उठाकर रीमेक या एकदम वाहियात फिल्म बना देते हैं. अगर इनकी पांच-छह फिल्में फ्लॉप भी हो जाएं तो भी इन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता. इनकी फिल्में फ्लॉप होने का यही कारण है.

प्रकाश झा

वहीं, प्रकाश झा ने आगे कहा कि अब फिल्म प्रोड्यूसर्स और कंटेंट लिखने वालों को भी यह लगने लगा है कि बड़े स्टार्स की बदौलत वह अपनी फिल्मों को हिट करवा सकते हैं. उन्होंने आगे कहा कि फिल्म इंडस्ट्री और सितारे दोनों को इस बारे में गंभीरता से सोचने की जरूरत है. उन्हें इस बारे में जरूर सोचना चाहिए कि जिस जनता ने उनको इतना ऊपर उठाया है वही उन्हें डुबो देगी.

प्रकाश झा

बता दें कि प्रकाश झा ने आगे कहा कि बॉलीवुड वाले फिल्मों को लेकर कोई प्रयोग नहीं कर रहे हैं. बॉलीवुड के लोग क्या सोच रहे हैं और क्या सोचकर कंटेंट लिखते हैं. अब वो सिर्फ बड़े स्टार्स और रीमेक के जरिए दर्शकों को कंटेंट परोस रहे हैं. जबकि वो कंटेंट नहीं है. वहीं साउथ वाले अच्छी कहानियां लेकर आ रहे हैं और नए-नए एक्सपेरिमेंट कर रहे हैं. इसीलिए उनकी फिल्में चल रही हैं.