Movie prime
जानें, क्यों ठंड के मौसम में खाना चाहिए अंडा
 

राजधानी पटना में ठंड का मौसम बढ़िया से आ गया है। हालांकि, दिन में कड़ी धूप रहती है, पर शाम होते सिहरन बढ़ जाती है। सर्दियों का यह सुहावना मौसम अपने साथ स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याएं भी लेकर आता है। ऐसे में थोड़ी सी सावधानी बरत कर जाड़े के मौसम का आनंद लिया जा सकता है। सर्दियों में रोगप्रतिरोधक क्षमता जिसे हम अंग्रेजी में इम्युनिटी कहते हैं मजबूत बनाए रखना बहुत जरूरी है। स्वस्थ रहने के लिए आपके शरीर में किसी भी विटामिन और मिनिरल की कमी नहीं होनी चाहिए। शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्वों में विटामिन डी भी शामिल है। 

विटामिन डी के फायदे

विटामिन डी हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत बनाता है। अगर आपके शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है तो इसका असर आपके इम्यून सिस्टम पर भी पड़ता है। ऐसे में कोराना वायरस से बचने के लिए भी आपको विटामिन डी की कमी नहीं होनी चाहिए। विटामिन डी की कमी से शरीर में कई तरह की परेशानियां हो सकती हैं। आपको दिनभर थकान महसूस होगी, जल्द चोट लगने का खतरा होगा, डिप्रेशन का शिकारहो सकते हैं और आपकी हड्डियां कमजोर हो सकती हैं। विटामिन डी की कमी दूर करने के लिए आप डॉक्टर की सलाह से सप्लीमेंट्स ले सकते हैं। लेकिन अगर आप दवा नहीं खाना चाहते तो आप खाने-पीने की कई चीजों से भी विटामिन डी की कमी पूरा कर सकते हैं। ऐसे में हम आपको बताएंगे कि किन चीजों के सेवन से आप विटामिन डी की कमी को पूरा कर सकते हैं।

गाय के दूध में मिलता है विटामिन-डी

अंडा खाना वैसे सभी को पसंद होता है। जो लोग नॉन वेज नहीं खाते वो भी अंडा खा लेते हैं। अंडे की जर्दी में विटामिन डी होता है। अंडे में प्रोटीन और गुड कार्ब्स भी होते हैं। विटामिन डी की कमी होने पर आप एक अंडे की जर्दी रोज खा सकते हैं। वहीं दूसरी ओर विटामिन डी की कमी होने पर आप गाय का दूध भी पी सकते हैं। इसमें विटामिन डी और कैल्शियम का बेस्ट सोर्स होता है। डेली एक ग्लास गाय के दूध से आपको पर्याप्त विटामिन डी मिल सकता है। 

खाने वाली चीजों में विटामिन सी का सबसे अच्छा श्रोत है मशरूम। मशरूम में विटामिन बी1, बी2, बी5 और मैग्नेशियम भी अच्छी मात्रा में होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि धूप में उगने वाले मशरूम को विटामिन डी की कमी होने पर खाया जा सकता है। यह सेहत के लिए बेहद उपयोगी है और फायदेमंद है। वहीं अगर आप नॉन वेज खाते हैं तो मछली विटामिन डी का अच्छा स्रोत हो सकता है। आप खाने में सिंघी, रहू, कतला, विकेट, जिंघा खा सकते हैं। ये सभी मछलियों के प्रकार आपको बिहार में आसानी से मिल जाएंगे। मछली से शरीर को कैल्शियम, फॉस्फोरस, प्रोटीन जैसे पोषक तत्व भी मिलते हैं। अगर आप डेली विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा लेना चाहते हैं तो इसके लिए संतरे का जूस भी पी सकते हैं। हालांकि, संतरा सिटरस फ्रूट है तो इसमें विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है।