Movie prime
भाजपा के लोगों को हम पच नहीं रहे थे, पार्टी और मेरे नेता की भी छवि धूमिल ना हो इसलिए इस्तीफा दिया: कार्तिकेय कुमार
 

लगातार विवादों में चल रहे बिहार सरकार में पूर्व मंत्री रहे कार्तिकेय  कुमार ने बीते दिन गन्ना उद्योग मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। इस्तीफा देने के बाद कार्तिकेय कुमार ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि भाजपा के लोगों को हम पच नहीं रहे थे. भूमिहार समाज से आरजेडी में मंत्री होना उनको अच्छा नहीं लग रहा था इसलिए मीडिया ट्रायल कर रहे थे. हम पर तरह तरह के आरोप लगा रहे थे.

Kartikey Singh: कार्तिकेय सिंह से नीतीश कुमार ने लिया कानून मंत्रालय,  किडनैपिंग का था आरोप Nitish Kumar took law ministry from Kartikeya Singh,  was accused of kidnapping

कार्तिकेय कुमार ने कहा कि बीजेपी को ये बर्दाश्त नहीं हो रहा था कि आरजेडी कोटे में भूमिहार समाज से किसी को मंत्री बनाया गया है. वे बार-बार मेरी छवि धूमिल करने के लिए तरह-तरह की तरकीबें सोच रहे थे. इससे मेरी इमेज तो खराब हो ही रही थी, लेकिन साथ-साथ पार्टी और मेरे नेता की भी छवि धूमिल हो रही थी। इससे बेहतर मैंने इस्तीफा देना समझा. 

जानकारी के लिए बता दें गन्ना उद्योग मंत्री कार्तिक कुमार ने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सौंपा. मुख्यमंत्री ने उनका इस्तीफा स्वीकार करते हुए राज्यपाल फागू चौहान को अपनी अनुशंसा भेज दी. इतना ही नहीं कार्तिक कुमार के त्यागपत्र के साथ ही गन्ना उद्योग विभाग का अतिरिक्त प्रभार राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री आलोक कुमार मेहता को दिया गया है.