Movie prime
चिराग के लौटते ही मेला में पहुंचे पशुपति पारस और प्रिंस राज के काफिले पर हमला, जमकर चले लाठी-डंडे और पत्थर
 

बिहार में केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस को एक समारोह के दौरान लोगों का विरोध झेलना पड़ा. पशुपति कुमार पारस की गाड़ी पर पटना जिले के घोसवरी प्रखंड अंतर्गत टाल क्षेत्र के चाराडीह गांव में शनिवार की शाम उग्र लोगों ने हमला कर दिया. गाड़ी पर पत्थर, पानी व कोल्ड ड्रिंक्स की बोतलें फेंकी गईं. देखते-देखते समर्थकों व हमलावरों के बीच लाठी-डंडे चलने लगे. मौके पर मौजूद पुलिस ने मामला शांत कराया और केंद्रीय मंत्री को सुरक्षित वहां से निकाला. इस दौरान पुलिस को भीड़ पर हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा.

चौहरमल मेला में पशुपति पारस का जबरदस्त विरोध, पुलिस सुरक्षा में बचकर निकले

पटना जिले के घोसवरी प्रखंड स्थित चाराडीह में चौहरमल महोत्सव में जमुई से सांसद चिराग पासवान ने अपने पिता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की मूर्ति का अनावरण किया. उनके जाने के बाद वहां केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस पहुंचे तो उनके काफिले पर लोगों ने पथराव शुरू कर दिया. लोग उन्हें मेले में जाने से रोकना चाह रहे थे.

Chirag Paswan said that PM Modi have security concerns from the barn to the  country - चिराग पासवान ने कहा - पीएम मोदी को खलिहान से लेकर देश तक की  सुरक्षा की चिंता

दरअसल जिस मंच से पशुपति पारस को भाषण देना था उस मंच पर पहले चिराग पासवान ने भाषण देकर एक अलग तरह का माहौल पैदा कर दिया. चिराग पासवान के मंच से उतरने के कुछ ही देर बाद पशुपति पारस अपने अमले के साथ सभा स्थल पर पहुंचे. इस दौरान दर्शक आक्रोशित हो गए और पारस के खिलाफ नारेबाजी करने के साथ काला झंडा दिखाना शुरू कर दिया. इतना ही नहीं कुछ लोगों ने पारस के वाहन पर हमला बोल दिया जिसमें एक पुलिस वाले ने एक व्यक्ति को थप्पड़ चला दी, इसके बाद तो भीड़ आक्रोशित हो गया. पुलिस वाले को खदेड़कर पीटना शुरू कर दिया.

चिराग के जाते ही पहुंचे पशुपति पारस के काफिले पर पथराव, लोगों ने किया विरोध  » BeforePrint News | Hyperlocal News Hindi

इसमें एक दुकानदार जमीन पर गिर गया. अर्धबेहोशी की अवस्था में उसे पुलिसवाले उसे उठाकर उपचार के लिए अस्पताल ले गए. किसी तरह पारस को सुरक्षित बाहर निकाला गया. स्थिति को देखते हुए पारस और समस्तीपुर सांसद प्रिंस पासवान सभा को संबोधित किये बिना वापस लौट गये.