Movie prime
पितृपक्ष मेला-2022 : पितरों को तर्पण, गोदावरी तालाब में पिंडदान के साथ गया श्राद्ध शुरू
Report: Dhiraj Sinha ( Gaya ) 
 

विश्वप्रसिद्ध पितृपक्ष मेला-2022 का उद्घाटन गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया. इसके साथ ही शुक्रवार से त्रिपाक्षिक पिंडदान शुरू हो गया. आज से शुरू होने वाले पितृपक्ष मेले का समापन 25 सितंबर को होगा. राजकीय मेले में देश-विदेश से आने वाले पिंडदानियों के स्वागत को मोक्षधाम विष्णुनगरी सज-धज कर तैयार है. जिला प्रशासन से लेकर गयापालों ने अपनी तैयारी को अंजाम दिया.

gaya

त्रिपाक्षिक श्राद्ध करने वाले अधिकतर पिंडदानी गुरुवार की रात ही गयाधाम पहुंच गए। देर रात तक 10 हजार से पिंडदानी यहां पहुंच चुके हैं. इनमें अधिकतर हरियाणा और राजस्थान के मारवाड़ी समाज के हैं. पितरों को मोक्ष दिलाने के लिए ये पिंडदानी  ने भाद्रपद्र चतुदर्शी त्रिपाक्षिक कर्मकांड शुरू किया.

gaya

 पिंडदानी पटना जिले के पुनपुन नदी के घाट से स्नान कर कर्मकांड की शुरुआत की. इतना ही नहीं जो तीर्थयात्री पुनपुन घाट नहीं जा पाए वो गया शहर के गोदावरी तालाब से पिंडदान कर 21 कुलों का उद्धार किया. लगातार गया पंचकोस की विभिन्न वेदियों पर पिंडदान करते-करते आश्विन शुक्ल पक्ष प्रतिपदा यानी 26 सितंबर को कर्मकांड का समापन करेंगे. वहीं त्रिपाक्षिक के अलावा मुख्य रूप से एक दिन, तीन, पांच और सात दिनों तक गया में श्राद्ध करने वाले पिंडदानियों का आना शुक्रवार से शुरू हो गया. अगले तीन-चार दिनों में पिंडदानियों की भारी भीड़ होगी.