Movie prime
सिद्धू को चंडीगढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार, गवर्नर हाउस के बाहर दे रहे थे धरना
 

लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध में पंजाब कांग्रेस के प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू और पंजाब यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष वीरेंद्र ढिल्लों समेत कई कांग्रेसी विधायकों ने सोमवार को गवर्नर हाउस के बाहर धरना शुरू कर दिया. करीब एक घंटा चले इस धरने के बाद चंडीगढ़ पुलिस ने सिद्धू और उनके साथ धरना दे रहे अन्य नेताओं को हिरासत में ले लिया.

आपको बता दे कि चंडीगढ़ में गवर्नर हाउस के बाहर धरने के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू ने कृषि कानूनों के विरोध में नारे लगाए और कहा कि वे  पंजाब में कृषि कानूनों को लागू नहीं होने देंगे. सिद्धू ने लखीमपुर खीरी के मामले का जिक्र करते हुए कहा कि पहले केंद्र सरकार शांतीपुर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे किसानों पर लाठियां चला रही थी और अब किसानों का कत्ल कर दिया. सिद्धू ने धरने के दौरान किसान मजदूर एकता जिंदाबाद के नारे भी लगाए.

इतना ही नहीं हिरासत में लिए जाने के बाद सिद्धू ने कहा, "क्या इस आधार पर हमें गिरफ्तार किया है, कि जिन्होंने बेरहमी से किसान भाइयों का कल्त किया, उनकी गिरफ्तारी की मांग की, इसलिए हमको गिरफ्तार किया. यह मेरा मौलिक अधिकार है कि मैं किसान भाइयों के हक की आवाज बुलंद करूं. क्या इसलिए अरेस्ट किया है कि खट्टर साहब की अहंकार की बू वाली स्टेटमेंट के खिलाफ आवाज उठाई है, क्या वे देशद्रोही नहीं है कि 60 प्रतिशत किसानों पर वे अपनी अहंकारी सोच दिखा रहे हैं? क्या ये अहंकार नहीं है कि आप हमारी महासचिव प्रियंका जी के साथ बदसलूकी करें, क्या इस चीज का विरोध करना कानून के खिलाफ है?"